जमई ने सचिव ससूर और सरपंच द्वारा न्यायालय में असत्य जानकारी देने की शिकायत की
 

देवास। ग्राम पंचायत लिम्बोदा के ससूर सचिव एवं सरपंच द्वारा फर्जी रजिस्टर तैयार कर न्यायालय में असत्य जानकारी देने की शिकायत जमई ग्रामीण हरदेवसिंह ने मंगलवार को जिला कलेक्टर के नाम एसडीएम को की है। शिकायत में हरेदवसिंह ने बताया कि मैं ग्राम नेवरी का निवासी हूँ। ग्राम नेवरी ग्राम पंचायत लिम्बोदा के अंतर्गत आती है। ग्राम पंचायत लिम्बोदा के सरपंच नेमुबाई पति हरीसिंह एवं सचिव भगवान सिंह झाला द्वारा न्यायालय में प्रचलित प्रकरण में पट्टे के संबंध में पट्टा अभिलेख रजिस्टर प्रस्तुत किया गया। उक्त रजिस्टर में सचिव भगवानसिंह झाला द्वारा मुझे जारी किये गये पट्टे का कोई उल्लेख नही है। सचिव का कहना है कि उक्त रजिस्टर में मेरे पट्टे का उल्लेख इसलिए नहीं है कि वह तहसील से जारी किया हुआ हैं। तहसील से जारी किये गये पट्टों को हम हमारे रजिस्टर मे दर्ज नहीं करते हैं। मगर मेरे पट्टे पर सचिव महोदय की ग्राम पंचायत की सिल एवं सचिव के हस्ताक्षर है। सचिव भगवान सिंह और सरपंच नेमु बाई के द्वारा न्यायालय में जो रजिस्टर पेश किया गया है उसमें क्रमांक 1 से लगातार 40 तक के पट्टों का विवरण है। उसी वर्ष मुझे भी पट्टा जारी किया गया था। मगर मेरे पट्टे का कोई उल्लेख नही है। सचिव का कहना है कि उक्त रजिस्टर में क्रमांक 39 को छोड़कर सारे पट्टे तहसील द्वारा जारी किये गये हैं और क्रमांक 39 का सिर्फ एक पट्टा ग्राम पंचायत द्वारा जारी किया गया है। जो केवल एक पट्टा ग्राम पंचायत द्वारा जारी किया गया है  क्रमांक 39 वह विवादित भूमि है और न्यायालय मे उसका प्रकरण चल रहा है। उसी एक व्यक्ति को लाभ दिलाने के लिए यह झूठा एवं फर्जी रजिस्टर तैयार कर न्यायालय पेश किया गया है। यह रजिस्टर फर्जी है, क्योंकि उक्त रजिस्टर मे क्रमांक 3 पर अमरसिंह पिता रजंन सिंह का पट्टा दर्ज है। किंतु लोकेन्द्रसिंह कुमेर सिंह के पट्टे पर स्पष्ट लिखा हुआ है कि सचिव के रजिस्टर मे क्रमांक 3 पर लोकेन्द्र सिंह कुमेर सिंह का पट्टा दर्ज है। अगर क्रमांक 3 लोकेन्द्र सिंह के पट्टे पर लिखा हुआ है तो फिर सचिव के रजिस्टर मे क्रमांक 3 पर अमरसिंह पिता रजंन सिंह क्यो लिखा हुआ है। उक्त रजिस्टर के क्रमांक एवं पट्टेधारीयो के पट्टे मे दर्ज क्रमांक भिन्न-भिन्न है। क्योंकि असली रजिस्टर को छुपाया गया है और तत्काल फर्जी रजिस्टर तैयार कर न्यायालय में पेश किया गया है। वही सचिव और सरपंच के द्वारा केवल एक पट्टा बनाया गया है वह 15 बाय 23 का है,जबकि वह इतनी जगह नही है और अगर इतनी जगह है तो उसमें आमरास्ता व विद्युत डीपी भी शामिल है। हरदेवसिंह ने कलेक्टर से मांग की है सचिव एवं सरपंच द्वारा किए गए फर्जी काम एवं न्यायालय को दी गई असत्य जानकारी पर शीघ्र कार्यवाही की जाए।

Popular posts
जिले में आज से ही लेफ्ट राइट के नियम का पालन करते हुए शाम 7:00 बजे तक खुली रहेगी दुकाने ,,,,, धार्मिक स्थल नहीं खुलेंगे,,,,,ब्लैक फगस के 89 मरीज हैं जिनका उपचार चल रहा है,,,,,,,कलेक्टर ने कहा कि अब आगे से कोरोना के जितने भी प्रकरण पॉजिटिव आएंगे उन सभी को होम क्वॉरेंटाइन के स्थान पर कोविड केयर सेंटर में रखा जाएगा
Image
आज 11 जून से ही संपूर्ण बाजार खुलेगा लेफ्ट राइट का नियम तत्काल प्रभाव से समाप्त
Image
आरक्षक का सनसनी खेज अश्लील वीडियो हुआ वायरल, तड़ीपार बदमाश भी है शामिल,
Image
चौबीस घंटे पर्दे के पीछे रहकर कर रही है टीम डाटा कलेक्शन का काम*
Image
पटवारियों की दुर्घटना में मौत के बाद एक्सिस बैंक ने उनके नामिनी को दिए 20 20 लाख रुपए, जिलाधीश ने सोपे चेक
Image