कोरोना बूचड़खानों से फैल रहा है स्वर्णिम भारत मंच ने की मांस मटन की दुकानें बंद करने की मांग


शैक्षणिक संस्थान, सिनेमाघर, सार्वजनिक कार्यक्रम पर ही पाबंदी क्यों?
उज्जैन। स्वर्णिम भारत मंच ने कलेक्टर शशांक मिश्र से मांग की है कि शहर में चल रही मांस की दुकानें तत्काल हटाई जाए जिससे लोग कोरोना वायरस से भयभीत नही होंगे, साथ ही महाकाल मंदिर दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं को भी राहत मिलेगी।
कलेक्टर से १७ मार्च को स्वर्णिम भारत मंच मिलकर चर्चा भी करेगा : स्वर्णिम भारत मंच के दिनेश श्रीवास्तव ने बताया कि स्वर्णिम भारत मंच लंबे से मांस मटन की दुकानों के को हटाने का आंदोलन कर रहा है। इसी आशय से एक ज्ञापन कलेक्टर के नाम दिया है। १७ मार्च को मंच शशांक मिश्र से मिलकर तत्काल कत्लखाने हटाने की बात करेंगे, क्योंकि कोरोना केवल सिनेमाघर स्कूल, कोचिंग, कॉलेज, सार्वजनिक आयोजनों से नहीं फैल रहा है। इसका मुख्य कारण बूचड़खाने हैं, चिकन मटन खाने से लोग बीमार हो रहे हैं।
महाकाल मंदिर के 2 किमी क्षेत्र में सर्वाधिक मांस की दुकानें : स्वर्णिम भारत मंच कई वर्षों से महाकाल मंदिर के आसपास चल रही मांस मटन की दुकानें हटाने की मांग कर रहा है। इन दुकानों के कारण बाहर से उज्जैन आने वाले श्रद्धालुओं को पीड़ा पहुँचती है। हमारी पवित्र धार्मिक नगरी का वैभव भी खत्म हो रहा है।
उचित मूल्य की दुकानों पर भी घबराहट : स्वर्णिम भारत मंच ने जिला प्रशासन को अवगत कराया है कि राशन खरीदने उचित मूल्य की दुकान पर आने वाले ग्राहकों में घबराहट मची है कि कहीं थम्ब मशीन से उन्हें कोई बीमारी तो नहीं हो जाएगी। इस डर से दुकान संचालक का रोज विवाद हो रहा है। प्रशासन कोई रास्ता निकाले, जिससे ग्राहकों व दुकानदारों की समस्या खत्म हो।
सम्पूर्ण प्रदेश में बंद करे सरकार : स्वर्णिम भारत मंच ने उज्जैन के साथ-साथ पूरे प्रदेश में कत्लखाने बन्द करने की मांग की है, जिससे पूरे देश में जो भय का माहौल पनप रहा है, वो खत्म हो सरकार जितने भी संस्थान बंद भले ही कर दे, कोई फायदा नहीं है। जब तक बूचड़खाने बन्द नहीं होंगे। इस बीमारी से बच नहीं सकते हैं, जबकि विदेशी लोग भी अब शाहकारी हो गए हैं, बल्कि हमारे मप्र में तो कई धार्मिक स्थल हैं, जिन्हें पवित्र करना आवश्यक है।
महाकाल मंदिर में भस्मारती के दर्शन नहीं रोके : स्वर्णिम भारत मंच ने महाकाल मंदिर में भस्मारती के दर्शन पर रोक लगाने का विरोध किया है तथा मांग की है कि रोक लगाने की बजाय सावधानी बरतने का प्रचार किया जाए व एक हवन ऐसा हो जो कोरोना के वायरस खत्म कर दे।


Popular posts
मेडिकल कॉलेज के 66 स्टूडेंट कोरोना पॉजिटिव आए
Image
आगर में हड़कंप मचा,,,, जानिए अब कौन से flu ने दस्तक दी
Image
मध्यप्रदेश में 10 दिन में 160 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आए भोपाल और इंदौर में सर्वाधिक मरीज मिले
Image
सिटी स्कैन करवाने वालों की रिपोर्ट देखेगा जिला प्रशासन,,,,मास्क और वैक्सीनेशन के जरिए नए वेरिएंट की दस्तक को रोकने की तैयारी 9 में से 8ऑक्सीजन प्लांट वर्किंग पोजीशन में,,,, 5 गुना ज्यादा तेजी से फैलता है नया वेरिएंट मध्यप्रदेश में दे सकता है दस्तक
Image
पूजा भट्ट का हॉट लुक होश उड़ा देगा दर्शकों का
Image