समर्पण ध्यानयोग महाशिविर का आज से यूट्यूब पर होगा प्रसारण


उज्जैन। समर्पण ध्यानयोग संस्कार के प्रणेता शिवकृपानंद स्वामीजी के द्वारा वर्तमान परिस्थिति के सन्दर्भ में सभी साधकों से अपील की गयी है कि वे लॉकडाउन के दौरान घर में रहकर सरकार के निर्देशों का पालन करें। विश्व भर में समर्पण ध्यानयोग संस्कार के सभी ध्यान केंद्रों तथा आश्रमों को बंद करके सरकार को सहयोग दिया जा रहा है। पूज्य स्वामीजी द्वारा दिए गए निर्देश के अनुसार देश-विदेश में बड़ी संख्या में साधक घर पर रहकर ही ध्यानसाधना कर रहे हैं।
मध्यप्रदेश प्रमुख आचर्य भूषण खुल्लर के अनुसार वर्तमान परिस्थिति में लोग मानसिक रूप से संतुलित रह सकें, साथ ही आध्यात्मिक मार्ग पर अग्रसर हो सकें और घर पर ही पूज्य स्वामीजी की चैतन्यपूर्ण वाणी का लाभ ले सकें, इस हेतु साल २०१८ में शिर्डी में आयोजित हुई पूज्य स्वामीजी की महाशिविर का ’समर्पण अनुभूति’ का यू ट्यूब चैनल पर प्रसारण किया जा रहा है। ’घर बैठे गंगा’, जैसी इस वीडियो शिविर का १ अप्रैल से ८ अप्रैल २०२० के दौरान शाम ७ बजे से प्रसारण किया जाएगा। इस वीडियो शिविर में स्वामीजी अपने निजी अनुभवों के आधार पर अपनी सरल शैली में दिए गए चैतन्यपूर्ण प्रवचन के माध्यम से ध्यान का परिचय, शरीर के सात ऊर्जा केंद्र, जैसे विषयों के बारे में जानकारी के साथ-साथ ध्यान की सरल पद्धति सिखाते हैं। जीवन में शारीरिक, मानसिक एवं  आध्यात्मिक लाभ प्रदान करने वाली इस शिविर का लाभ लेने के लिए सभी को समर्पण परिवार ह््रदयपूर्वक अनुरोध करता है। समर्पण परिवार के इतिहास में पहली बार यू ट्यूब चैनल के माध्यम से आयोजित की जा रही इस शिविर का लाभ लेकर एक सकारात्मक सामूहिकता के साथ जुड़ा जा सकता है। स्वामीजी हमेशा सभी को नियमित रूप से रोज ३० मिनट के ध्यान हेतु समय देने के लिए जोर देते हैं। रोज ३० मिनट का ध्यान व्यक्ति को तनावमुक्त रहने में सहायक हो सकता है और व्यक्ति एकाग्र चित्त रहकर सर्वांगीण विकास प्राप्त कर सकता है।


Popular posts
अखाड़ा परिषद् अध्यक्ष नरेंद्र गिरी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत
Image
देश के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले वीर जवानों को श्रद्धांजलि
स्ट्रांग रूम का निरीक्षण करने के लिए राजनीतिक दल आमंत्रित 
फेसबुक गैंग के गुंडे दुर्लभ कश्यप की हत्या
Image
सरकारी जमीन पर तान दी मल्टी, टीएनसीपी ने निरस्त की अनुमति, नगर निगम ने भ्रष्टाचार की सीमा तोड़ी,,, बिल्डर ने शासकीय अधिकारी एवं इंजीनियरों से सांठगांठ कर अवैध मल्टी का निर्माण करने पर नगर निगम इंजीनियर मीनाक्षी शर्मा, भवन अधिकारी रामबाबू शर्मा, नगर निवेशक मनोज पाठक पर धारा 420, 467, 468, 471, 120-बी भादवी एवं भ्रष्टाचार का प्रकरण दर्ज करने की मांग की थी
Image