व्यापारियों, उद्योगपतियों और राजे-रजवाड़ों की यह सरकार गरीबों के बारे में नहीं सोचती:पूर्व मुख्यमंत्री

 




आगर मालवा। झूठ बोलकर, छल करके सत्ता में आई कमलनाथ सरकार ने गरीबों, माताओं, बहनों, बेटियों, युवाओं, किसानों सभी के साथ धोखा किया है। इस सरकार को गरीब जनता की नहीं, सिर्फ पैसे कमाने की चिंता है और वह रेत के अवैध खनन से, शराब कारोबार से और तबादला उद्योग से पैसे कमाने पर ही ध्यान दे रही है। व्यापारियों, उद्योगपतियों और राजे-रजवाड़ों की यह सरकार गरीबों के बारे में नहीं सोचती। आगर में एकत्र हजारों कार्यकर्ता और आम नागरिक यहीं से प्रदेश को स्वर्णिम मध्यप्रदेश बनाने की राह पर आगे बढ़ाने के अभियान का आगाज करें। यहां से जो आवाज उठेगी, वह पूरे प्रदेश में फैलकर कमलनाथ सरकार की पाप की लंका को जलाकर राख कर देगी। यह बात भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने आगर में विधानसभा स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन में जुटे हजारों कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कही।
 भारतीय जनता पार्टी का विधानसभा स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन बुधवार को आगर मालवा में आयोजित किया गया। सम्मेलन में हजारों पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बड़ी संख्या में आम नागरिक भी उपस्थित थे। एकत्रित जनसमुदाय को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री  शिवराजसिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष व सांसद  विष्णुदत्त शर्मा एवं नेता प्रतिपक्ष  गोपाल भार्गव ने संबोधित किया।


कार्यकर्ता सम्मेलन के पूर्व  सर्किट हाऊस से नेताओं का रोड शो प्रारंभ हुआ जो छावनी नाका, बडौद चौराहा होते हुए मंडी परिसर पहुंचा। रोड शो में युवा मोर्चा के कार्यकर्ता बाइक रैली के रूप में भाजपा जिंदाबाद के नारे लगाते हुए चल रहे थे। हजारों लोगों ने पार्टी नेताओं का पुष्पवर्षा कर स्वागत किया। विभिन्न सामाजिक संगठनों और पार्टी के मोर्चा एवं प्रकोष्ठों ने स्वागत मंच लगाकर नेतागणों का अभिनंदन किया। इस अवसर पर प्रदेश महामंत्री बंशीलाल गुर्जर, सांसद महेन्द्रसिंह सोलंकी, प्रदेश मंत्री  पंकज जोशी, प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेन्द्र पाराशर, जगदीश अग्रवाल, विधायक गण बहादुरसिंह चौहान, मोहन यादव, इदंरसिंह परमार, जिलाध्यक्ष दिलीप सकलेचा,करणसिंह यादव,मुरलीधर पाटीदार उपस्थित थे।


वोट की चोट से पाप की लंका जलाकर राख कर देंगे:शिवराजसिंह चौहान
 सभा को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री  शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि इस सरकार में सिर्फ पटवारी से लेकर चीफ सेक्रेटरी तक वसूली का ही काम हो रहा है। कमलनाथ सरकार प्रदेश को चील-कौवों की तरह नोंच नोंच कर खा रही है। शराब, रेत, तबादला उद्योग, परिवहन के काम में पैसों की लूट हो रही है। सरपंचों को नोटिस दिया जा रहा है कि कांग्रेस में आ जाओ। एक अतिक्रमण तोड़कर 10 लोगों से पैसे वसूल रहे हैं। अतिथि विद्वान महिलाओं को मुंडन करवाने पर मजबूर किया जा रहा है। चारों तरफ त्राहि त्राहि हो रही है, हाहाकार मचा है। उन्होंने कहा कि आगर में आन बान शान के लिए मरने वाले लोग हैं और आगर की जनता इन सबका हिसाब कांग्रेस सरकार से जरूर लेगी। उन्होंने कहा कि यह उपचुनाव आगर की जनता लड़ेगी और दिखा देगी कि जनता की ताकत क्या होती है। वोट की चोट से कमलनाथ सरकार की पाप की लंका को जलाकर राख कर देंगे।
 श्री चौहान ने कहा कि सुना है दो दिन पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ भी आगर आए थे। अब चुनाव है, तो दिखने लगे हैं। लेकिन आगर की जनता जानती है कि यहां के विकास के लिए काम किसने किए हैं। आगर को जिला किसने बनाया, जिस कलेक्टर भवन का उद्घाटन मुख्यमंत्री कमलनाथ ने किया, वह किसने बनाया, पंचायत ऑफिस किसने बनाया, गो-अभ्यारण किसने बनाया, अस्पताल में ट्रामा सेंटर किसने खोला, कुंडलिया डैम किसने बनाया, कृषि विज्ञान केंद्र किसने खोला, बड़ौद कॉलेज किसने खोला, फोरलेन किसने बनाई, जिला न्यायालय का भवन किसने बनाया, आरटीओ का आफिस किसने बनाया? श्री चौहान ने कहा कि यह सरकार है या सरकस, समझ से परे है। इस सरकार में कलेक्टर थप्पड़ मार रही है। मंत्री सब इंजीनियर के पांव पर गिर जाते हैं। पीने की पानी की व्यवस्था नहीं है, मगर शराब घर-घर, गली-गली बेचने की तैयारी है। उन्होंने कहा कि सरकार इसलिए लोगों को नशे में डुबा देना चाहती है, ताकि उन्हें इस सरकार के वादे याद न रहें। श्री चौहान ने कहा कि मुख्यमंत्री कहते हैं कि मैं महिलाओं के लिए अलग से दारू की दुकान खुलवाउंगा। लेकिन खबरदार, एक भी दारू  की दुकान खोलने की कोशिश की तो मेरी बहनें उसे तहस-नहस कर देंगी। उन्होंने कहा कि इस सरकार ने किसानों को गेहूं का बोनस नहीं दिया। हमने संबल योजना बनाई थी ताकि गरीब-मध्यमवर्गीय परिवारों की जिंदगी चल सके, इन्होंने बंद कर दी। हम बच्चों की फीस भरवाते थे, अब नहीं भरी जा रही है। यह बेईमान सरकार बच्चों की स्कॉलरशिप भी खा गई। बच्चों को लेपटॉप, स्मार्टफोन दिया जाता था, अब नहीं मिलता। बुजुर्गों को आखिरी समय में तीर्थ दर्शन की आस रहती थी, लेकिन इन्होंने वह आस भी छीन ली। हमने गरीबों का नाम गरीबी रेखा की सूची में जोड़ा, इन्होंने नाम काट दिये। ये इसलिए नाम काट रहे हैं कि गरीबों को राशन न देना पड़े, लेकिन मैं चेतावनी देता हूं कि अगर सूची से गरीबों के नाम काटे तो इस सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे।


गरीबों के लिये पैसा नहीं, नाच-गाने पर करोड़ों लुटा रही सरकारः विष्णुदत्त शर्मा
सभास्थल पर एकत्रित कार्यकर्ताओं और जनसमुदाय को संबोधित करते हुए पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि झूठ बोलकर सत्ता में आई कमलनाथ सरकार ने हर वर्ग के साथ धोखा किया। इस सरकार ने हमारी सरकार द्वारा गरीबों के लिये शुरू की गई संबल योजना बंद कर दी। हमारी सरकार कन्याओं के विवाह पर 28 हजार रुपये देती थी, इन्होंने कहा हम 51 हजार रुपये देंगे। लेकिन इस सरकार ने प्रदेश की बेटियों, भांजियों के साथ भी धोखा किया और उन्हें एक पैसा नहीं दिया। श्री शर्मा ने कहा कि जो भांजियों के साथ धोखा करता है, वह रसातल में चला जाता है और यही कमलनाथ सरकार का भी होगा। श्री शर्मा ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री मोदी जी ने गरीबों को छत उपलब्ध कराने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना के माध्यम से 8 लाख मकान स्वीकृत किये, लेकिन पैसे न होने का बहाना बनाकर इस सरकार ने 2 लाख मकान वापस कर दिये। गरीबों का हक छीनने वाली, उनके सिर से छत छीनने वाली यह सरकार आइफा अवार्ड पर, नाच-गाने पर करोड़ों लुटा रही है, लेकिन इसके पास गरीबों के लिये पैसे नहीं है।
 श्री शर्मा ने कहा कि इस सरकार को गरीबों की चिंता नहीं है, इसे चिंता इस बात की है कि घर-घर शराब कैसे पहुंचाएं। ऑनलाइन शराब कैसे उपलब्ध कराएं, महिलाओं के लिये अलग दुकानें खोली जा रही हैं। उन्होंने कहा कि शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार ने करोड़ों का नुकसान उठाकर भी माताओं-बहनों के कहने पर शराब दुकानें बंद करने का निर्णय लिया था। लेकिन मुख्यमंत्री कमलनाथ तो व्यापारी हैं, उन्हें तो पैसा चाहिए। श्री शर्मा ने कहा कि यह व्यापारियों, उद्योगपतियों राजाओं और रजवाड़ों की सरकार है, जिसे गरीबों से कोई लेना-देना नहीं है। यह सरकार रेत के अवैध खनन से पैसे कमाने का काम कर रही है, शराब नीति बनाने पर काम कर रही है और तबादलों के जरिए लूट मचाने काम कर रही है। उन्होंने कहा कि मैं सभा में उपस्थित कार्यकर्ताओं और आम नागरिकों से आह्वान करता हूं कि आगर की धरती से प्रदेश को स्वर्णिम मध्यप्रदेश बनाने का आगाज करें, हर बूथ पर कांग्रेस की जमानत जब्त कराएं, यही स्व.मनोहर ऊटवाल को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।


मध्यप्रदेश में परिवर्तन की शुरुआत आगर से होगी : गोपाल भार्गव
 सम्मेलन को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष  गोपाल भार्गव ने कहा कि आगर की जनता के चेहरे पर आज उमंग और उत्साह दिखाई दे रहा है। जनता में इतिहास रचने की ललक दिखाई देती है। आगर ने हमेशा भाजपा पर विश्वास व्यक्त किया है और आज कार्यकर्ता सम्मेलन में उमड़े जनसैलाब ने यह स्पष्ट कर दिया है कि उपचुनाव में भाजपा प्रचंड बहुमत से जीतेगी और प्रदेश में परिवर्तन की शुरुआत बाबा बैजनाथ की पवित्र धरती आगर से ही होगी। श्री भार्गव ने कहा कि कांग्रेस में अंतर्द्वंद चरम पर है। कबीलाई संस्कृति पर चल रही कमलनाथ सरकार गुटों में बंटी हुई है। कांग्रेस की हालत उस डूबते जहाज की तरह हो गयी है जिससे हर कोई कूदकर अपनी जान बचाना चाहता है। उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार ने 14 माह में प्रदेश के आम आदमी, किसान और युवाओं को ठगने का काम किया। उन्होंने कहा कि आगर को भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने जिला बनाया और इसका समग्र विकास किया। आगर को विकसित करने का श्रेय स्व. मनोहर उंटवाल को जाता है। उन्होंने विधायक, सांसद और मंत्री रहते इस क्षेत्र के विकास की हमेशा चिंता की। लेकिन दो दिन पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ आगर आए और सरकारी भवनों का उदघाटन किया। मुख्यमंत्री कमलनाथ और उनके मंत्री पिछले 14 महीने से भाजपा सरकार द्वारा किये गए विकास कार्यो का उदघाटन कर अपना बताने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार सिर्फ शिलालेख पर अपना नाम लिखाकर विकास कार्यों का श्रेय ले रही है।  संचालन कैलाश गवली ने किया आभार भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष अजय जैन ने माना।जानकारी भाजपा मीडिया प्रभारी महेश शर्मा ने दी।




Popular posts
उज्जैन के चरक में भर्ती लड़की का वीडियो वायरल हुआ
Image
Corona breaking,,,,,, पूरा परिवार आ रहा है पॉजिटिव,,,,,, पूर्व विधायक सहित 12 साल की मासूम चपेट में आई,,,,,, होलसेल दवा व्यापारी का पूरा परिवार संक्रमित,,,,, ऋषि नगर, विवेकानंद कॉलोनी और नानाखेड़ा हॉटस्पॉट बने,,,,,, पॉजिटिव आने वालों की चौका देने वाली 23% दर,,,,,, और भी बहुत कुछ,,,,,
Image
5 दिन में 5 फोटोग्राफर मौत के मुंह में समा गए,,,,,
Image
शादी वैवाहिक कार्यक्रम में अनुमति के साथ अधिकतम 50 व्यक्ति सम्मिलित हो सकेंगे
Image
राजनीति और धर्म के क्षेत्र की दो हस्तियों का दुखद निधन,,,,, कोरोना के कहर से कब उबरेगा शहर
Image