अफवाहों से सावधान रहें,,,,वेद पाठी तीन छात्र पॉजिटिव नहीं नेगेटिव आये, पुल क्रॉस किया कोरोना ने, 4 पॉजिटिव आने से सिख समाज में खलबली

उज्जैन शहर में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार हो रही वृद्धि चिंता का विषय है ।पुराने शहर के लगभग सभी क्षेत्रों में पहुंचने के बाद अब कोरोना ने नए शहर की तरफ रुख कर लिया है । वर रुचि मार्ग, विवेकानंद कॉलोनी, उदयन मार्ग ,रामी नगर, अलकनंदा नगर, महाश्वेता नगर में कोरोना संक्रमित अभी इक्का दुक्का लोग हैं लेकिन यदि सावधानी नहीं रखी गई तो यहां भी कोरोना फैलने की संभावनाएं बनी रहेगी। हालांकि जिला प्रशासन की टीम घर-घर दस्तक दे रही है और इसके प्रभावी परिणाम भी सामने आ रहे हैं ।प्रशासनिक टीम की वजह से ही छुपे हुए रोगी सामने आए हैं और अब उनका इलाज किया जा रहा है। ऐसे 100 से ज्यादा रोगी हैं जिन्हें प्रशासन ने खोजा है। इधर वेद विद्या प्रतिष्ठान के 13 वेद पाठी छात्रों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद, मचे हड़कंप में ,थोड़ी राहत है, आज यह खबर प्रमुखता  से प्रकाशित की गई थी कि वेद विद्या प्रतिष्ठान के तीन और छात्र पॉजीटिव पाए हैं लेकिन सत्य तो यह है कि  13 में से 7 में तेजी से सुधार है। छह में लक्षण दिखने पर, उन्हें जांच करवाने पर ,इनमें से तीन की रिपोर्ट नेगेटिव आने से थोड़ी राहत मिली है। इसके विपरीत कल चोबीस खंबा मार्ग पर सिख परिवार के पति पत्नी और उनके बच्चे पॉजिटिव आने के बाद सिख समाज में चिंता हो गई है क्योंकि जिनकी पॉजिटिव रिपोर्ट आई है,वे समाज की गतिविधियों में सक्रिय थे । इसके अलावा पुलिस विभाग में भी कोरोना को लेकर चिंता होने लगी है। क्योंकि पिछले 1 हफ्ते में चार पुलिसकर्मी कोरोना की जद में आए। इसके पहले एक थाना प्रभारी की दुखद मृत्यु कोरोना से हो चुकी है।