अनाज खरीद कर साढे तेरह लाख रूपये के भुगतान से इन्‍कार करने वाले आरोपी की जमानत निरस्‍तए

 


300 क्विन्‍टल सोयाबीन एवं 250 क्विन्‍टल गेंहू लिया था अरोपी ने


मुकेश ट्रेडर्स एवं अंबिका ट्रेडर्स के नाम से है आरोपी की गल्‍ले की दुकान



भोपाल। माननीय न्‍यायालय श्रीमती तृप्ति शर्मा अपर सत्र न्‍यायाधीश बैरसिया के न्‍यायालय में आरोपी जगदीश पिता गंगाराम साहू पिता देवीराम साहू द्वारा जमानत के लिये आवेदन प्रस्‍तुत किया गया और कहा कि उसे झूठा फंसाया गया है उसकी अपराध में कोई संलिप्‍तता नही है , जिसमें उपस्थिति अभियोजन अधिकारी श्री मि‍थलेश चौबे एडीपीओ बैरसिया ने कहा कि आरोपी जमानत पर छूटने पर फरार हो सकता है साक्ष्‍य भी प्रभावित कर सकता है। आरोपी द्वारा षडयंत्र रच कर धोखाधडी की गयी है । उक्‍त तर्को से सहमत होते हुए माननीय न्‍यायालय द्वारा आरोपी की जमानत निरस्‍त कर दी गयी।


 मीडिया सेल प्रभारी मनोज त्रिपाठी ने बताया कि फरियादी विक्रम सिंह मीणा निवासी वैजा खेडी तथा उसके साथ भैरो सिंह , हरनाथ सिंह, देवी सिंह, भगवान सिंह ने थाना बैरसिया में आवेदन दिया था कि आरोपी गंगाराम साहू पिता देवीराम साहू, जगदीश तथा मुकेश पिता गंगाराम साहू निवासी शांतिकुज बैरसिया मुकेश ट्रेडर्स एवं अंबिका ट्रेडर्स के नाम से गल्‍ले की दुकान चलाते है। हम लोग करीब 05 वर्षो से अंबिका ट्रेडर्स की दुकान पर सोयाबीन तथा गेहूं बेचते आ रहे है और समय पर भुगतान प्राप्‍त रहे है किन्‍तु इस बार गंगाराम साहू ने जगदीश साहू द्वारा घर से 300 क्विन्‍टल सोयावीन 3000 रूपये प्रति क्विन्‍टल के भाव से 9,50,000 रूपये तथा 250 क्विन्‍टल गेहूं , 1800 रूपये प्रति क्विन्‍टल के भाव से 4,50,000 रूपये कुल 13,50,000 रूपये में प्राप्‍त किये थे तथा मुकेश साहू ने अपने हाथ से पर्ची बनाकर दी थी जिसमें शर्ते थी कि उक्‍त फसल लेकर यदि नियत समय पर रूपये का भुगतान नही किया तो 02 प्रतिशत के हिसाब से मय ब्‍याज के 15 दिन में पैसा देना होगा।


 कुल रकम की मांग तीनो लोगो से बार बार करने पर नही दिये तब हम लोगो ने कहा या तो फसल दे दो या पैसे दे दो तब आरोपी जगदीश, गंगाराम एवं मुकेश द्वारा कोई भुगतान नही किया गया। इन लोगो द्वारा बेईमानी से फसल हडप कर उसे बेचकर रूपया अपने उपयोग में लिया है और भुगतान न कर धोखा दिया जा रहा है जिस पर थाना बैरसिया द्वारा दिनांक 24.07.2020 धारा 406 एवं 409 भादवि के अन्‍तर्गत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। आरोपी जगदीश और मुकेश को गिरफतार किया गया है अन्‍य आरोपी गंगाराम फरार है।


 


 


Popular posts
अखाड़ा परिषद् अध्यक्ष नरेंद्र गिरी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत
Image
देश के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले वीर जवानों को श्रद्धांजलि
स्ट्रांग रूम का निरीक्षण करने के लिए राजनीतिक दल आमंत्रित 
फेसबुक गैंग के गुंडे दुर्लभ कश्यप की हत्या
Image
सरकारी जमीन पर तान दी मल्टी, टीएनसीपी ने निरस्त की अनुमति, नगर निगम ने भ्रष्टाचार की सीमा तोड़ी,,, बिल्डर ने शासकीय अधिकारी एवं इंजीनियरों से सांठगांठ कर अवैध मल्टी का निर्माण करने पर नगर निगम इंजीनियर मीनाक्षी शर्मा, भवन अधिकारी रामबाबू शर्मा, नगर निवेशक मनोज पाठक पर धारा 420, 467, 468, 471, 120-बी भादवी एवं भ्रष्टाचार का प्रकरण दर्ज करने की मांग की थी
Image