उच्च शिक्षा मंत्री का हेल्थ अपडेट और हिंदी की दुर्गति,,,,

आज दोपहर जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी का कोविड-19 संबंधी पत्र पढ़कर बड़ी खुशी जाहिर हुई.. खुशी इस बात पर जाहिर हुई कि कैबिनेट मंत्री डॉ मोहन यादव की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आई है.. लेकिन थोड़ा दुख इस बात का हुआ कि पत्र पढ़ने में काफी कठिनाई आई , पत्र में चार लाइन लिखी हुई थी लेकिन आठ जगह मिस्टेक की गई थी.. कैबिनेट मिनिस्टर को मोनिस्टर लिखकर बाद में उसे काट दिया गया.. समस्त को भी सेमस्त लिख दिया गया.. इसके अलावा मीडिया लिखने में भी गलतियां दिखाई दी.. गलती की बात तो छोड़िए, यह पत्र देखकर कोई भी इस बात का अंदाजा नहीं लगाएगा कि संभागीय मुख्यालय के सबसे बड़े अस्पताल के सबसे बड़े अधिकारी की ओर से यह लेटर जारी हुआ है.. खैर, इस बात को गंभीरता से नहीं लेना चाहिए.. कोरोना के मामले में अस्पताल के लेटर की लापरवाही कोई पहली नहीं है.. पहले कई बार बुलेटिन में भी गलत आ चुकी है,लेकिन अगर रिपोर्ट हिंदी में नहीं बन पाए तो उसे इंग्लिश में भी जारी कर देना चाहिए.. उज्जैन के पत्रकार पॉजिटिव-नेगेटिव के बारे में तो अच्छी तरह जान चुके हैं... बाद में किरकिरी होने के बाद फिर से अंग्रेजी में बुलेटिन जारी किया गया है।


Popular posts
जिस रेल लाइन को कांग्रेस सरकार में 1975 में उखाड़ फेंका अब भाजपा सरकार ने वहां नई रेल लाइन का काम शुरू किया
Image
जो कभी सिंधिया घराने का महल था अब उज्जैन में वहा हेरिटेज होटल बनाने की योजना है।
Image
1 किलो वजन कम करने पर मिलेंगे 1000 करोड़ रुपए,,,,, जानिए क्या है पूरा मामला
Image
इन्दौर के चिकित्सकों का दल सेवाधाम की हवा और दीवारों की जांचकर ढूंढेगा मौत के कारण*
Image
कलेक्टर ने बैठक में निर्देश दिये कार्यक्रमों का मिनिट टू मिनिट कार्यक्रम तैयार किया जाये,,,,,,,29 मई को राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद का उज्जैन दौरा प्रस्तावित, अ.भा.आयुर्वेद महासम्मेलन व स्व-सहायता समूह के सम्मेलन में भाग लेंगे
Image