उज्जैन के निजी अस्पतालों में भारी लूटपाट, प्रशासन ने अभी तक कोई निर्देश नहीं दिए, इंदौर कलेक्टर ने दरें तय की

 उज्जैन। शहर के अनेक निजी अस्पतालों में कोरोना के मरीज पॉजिटिव आ रहे हैं पॉजिटिव आने वाले मरीजों से भारी लूटपाट की जा रही है लेकिन जिला प्रशासन ने अभी तक इस दिशा में कोई निर्देश जारी नहीं किए हैं जबकि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कह चुके हैं कि निजी अस्पताल मरीजों से लूटपाट न करें इधर निजी अस्पतालों में की जा रही लूट पट्टी के खुलासों के बाद इंदौर कलेक्टर ने एक महत्वपूर्ण आदेश जारी किया है, जिसमें कोरोना मरीजों के इलाज के लिए चिन्हित किए गए 28 अस्पतालों में अब प्रशासन द्वारा तय की गई दर के मुताबिक ही राशि ली जा सकेगी, इसमें रूम रेंट से लेकर पीपीई किट दवाई ,पैथोलॉजी , चिकित्सकीय परामर्श, बायोमेडिकल डिस्पोजेबल चार्ज , वेंटीलेटर चार्ज सहित अन्य खर्चों की दरें तय कर दी गई है , इसके साथ ही निजी अस्पतालों में आईसीयू बेड भी बढ़ाए गए हैं , अब 78 आईसीयू बेड की जगह 194 बेड उपलब्ध हो गए हैं , निर्धारित तय की गई इन दरों से ज्यादा राशि अगर किसी अस्पताल ने वसूल की तो उसके खिलाफ कड़ी दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी उल्लेखनीय है कि उज्जैन के निजी अस्पतालों में कोरोना के मरीज लगातार मिल रहे हैं शहर का शायद ही कोई अस्पताल ऐसा होगा जिस में कोरोना के मरीज ना मिले हो।