26 साल से फरार अफीम तस्कर की जमानत खारिज

फाईनेंस कंपनी की ओर से प्रस्तुत वाहन सुपुर्दगी आवेदन खारिज।


जावद। श्रीमान नीतिराज सिंह सिसौदिया, विशेष न्यायाधीश, एन.डी.पी.एस. एक्ट, जावद द्वारा डोडाचुरा तस्करी में प्रयुक्त कार कि कुछ किस्तों का भुगतान नहीं करने पर फाईनेंस कंपनी ए.यू. स्माॅल फाईनेबैंक लिमिटेड़, जयपुर की ओर से प्रस्तुत वाहन सुपुर्दगी का आवेदन खारिज किया गया।


अपर लोक अभियोजक श्री दिनेश वैध द्वारा घटना की जानकारी देते हुुए बताया की घटना दिनांक 19.07.2020 को मुखबिर सूचना के आधार पर चैकी सरवानिया महाराज, पुलिस जावद द्वारा वाहन चैकिंग के दौरान नाके बंदी करने पर आरोपी पवन के आधिपत्य वाले वाहन फोर्ड फिगो कार आर.जे. 14 सी.पी. 4823 से कुल 100 किलो अवैध मादक पदार्थ डोडाचुरा जप्त किया गया, जिस पर आरोपी के विरूद्ध थाना जावद में अपराध क्रमांक 267/20, धारा 8/15 एनडीपीएस एक्ट में पंजीबद्ध किया गया, जिस पर फाईनेंस कंपनी द्वारा उक्त कार की संपूर्ण किस्ते जमा नहीं होने के आधार पर न्यायालय में वाहन की सुपुर्दगी आवेदन विशेष न्यायाधीश, एन.डी.पी.एस एक्ट, जावद के समक्ष प्रस्तुत किया गया। श्री दिनेश वैध अपर लोक अभियोजक द्वारा डोडाचुरा तस्करी में प्रयुक्त कार की सुपुर्दगी आवेदन का विरोध करने पर उक्त आवेदन खारिज किया .


26 साल से फरार अफीम तस्कर की जमानत खारिज।


जावद। श्रीमान नीतिराज सिंह सिसौदिया, विशेष न्यायाधीश, एन.डी.पी.एस एक्ट, जावद द्वारा जीप से 10.45 किलो अफीम की तस्करी करने वाले फरार आरोपी बाबुलाल पिता भियाराम विश्नाई, उम्र-60 वर्ष, निवासी झांवर, जिला जोधपुर (राजस्थान) की ओर से प्रस्तुत जमानत खारिज की गई।


 अपर लोक अभियोजक श्री दिनेश वैध द्वारा घटना की जानकारी देते हुुए बताया की घटना दिनांक 27.03.1994 को थाना जावद पुलिस द्वारा ग्राम पालराखेड़ा के जंगल से बगेर नंबर वाली जीप से कुल 10.45 किलो अवैध मादक पदार्थ अफीम जप्त किया गया, जिस पर वाहन की जाॅच करने पर, उक्त वाहन आरोपी बाबुलाल का होना पाया गया, किंतु आरोपी फरार होने से उसे गिरफ्तार नहीं किया जा सका, आरोपी के विरूद्ध थाना जावद में अपराध क्रमांक 78/1994, धारा 8/18 एनडीपीएस एक्ट में पंजीबद्ध कर चालान आरोपी की अनुपस्थिति में पेश किया गया जिस पर आरोपी को 26 साल बाद गिरफ्तार कर, विशेष न्यायाधीश, एन.डी.पी.एस एक्ट, जावद के समक्ष पेश किया। श्री दिनेश वैध अपर लोक अभियोजक द्वारा आरोपी की ओर से प्रस्तुत जमानत आवेदन का विरोध करने पर उक्त जमानत खारिज की गई.


मछली चोरी में हत्या करने वाले आरोपी की तीसरी बार जमानत खारिज।


जावद। श्रीमान नीतिराज सिंह सिसौदिया, विशेष न्यायाधीश, एन.डी.पी.एस एक्ट, जावद द्वारा मछली चोरी करने में पत्थर मारकर हत्या करने वाले आरोपी लक्ष्मण पिता गौरीलाल बंजारा, उम्र-29 वर्ष, निवासी चिरनीखेड़ा, थाना रतनगढ़, जिला नीमच की ओर से प्रस्तुत तीसरा जमानत आवेदन खारिज किया गया।


अपर लोक अभियोजक श्री दिनेश वैध द्वारा घटना की जानकारी देते हुुए बताया की घटना दिनांक 25.02.2020 को प्रतापसागर डेम से मछली चोरी की सूचना प्राप्त होने पर मृतक पिकअप चालक राजु रेवारी के साथ चोर का पीछा करने के लिए कुछ लोग गये थे, जिस पर आरोपी लक्ष्मण ने उन पर पत्थर फेंकना शुरू कर दिया, जिससे मृतक राजु को पत्थर सीने में लगा व उपचार के दौरान उसकी मृत्यु हो गई, जिस पर आरोपी के विरूद्ध थाना रतनगढ़ पर अपराध क्रमांक 35/2020, धारा 294, 323, 304, 427 भादवि में पंजीबद्ध किया गया, विवेचना के दौरान आरोपी लक्ष्मण को गिरफ्तार किया गया, जिस पर पूर्व में दो बार आरोपी द्वारा जमानत आवेदन प्रस्तुत किये गये, जो खारिज हुए, जिस पर आरोपी द्वारा तीसरी बार जमानत आवेदन न्यायालय जावद के समक्ष प्रस्तुत किया। श्री दिनेश वैध अपर लोक अभियोजक द्वारा आरोपी की ओर से प्रस्तुत जमानत आवेदन का विरोध करने पर उक्त जमानत खारिज .


शिकार में उपयोग की जाने वाली मोटरसायकल का सुपुर्दगी आवेदन खारिज।


नीमच। श्रीमान विवेकानंद त्रिवेदी, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, जिला नीमच द्वारा तीतर पकड़ने में प्रयुक्त मोटरसायकल एम.पी. 44 एम.ए. 8534 की सुपुर्दगी आवेदन आवेदन खारिज।


मीड़िया सेल प्रभारी श्री रितेश कुमार सोमपुरा, एडीपीओ द्वारा घटना की जानकारी देते हुुए बताया कि घटना दिनांक 15.09.2020 को घटना स्थल रामझर महादेव गेट के पास जंगल में एक व्यक्ति फंदा लगाकर तीतर पकड़ते हुए दिखा, जिस पर उसका नाम पूछने पर उनासिंह होना बताया, मौके पर उसके पास से तीतर जाल, गुलेल तथा मोटरसायकल जप्त की गई थी, जिस पर आरोपी के विरूद्ध अपराध क्रमांक 210/15, दिनांक 15.09.2020 व धारा 26झ भारतीय वन अधिनियम तथा धारा 2(1), 39(2), 9 एवं 51 वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम में पंजीबद्ध किया गया, जिस पर उक्त अपराध में प्रयुक्त मोटरसायकल की सुपुर्दगी के लिए वाहन मालिक किशनलाल पिता राजाराम की ओर से आवेदन नीमच न्यायालय में प्रस्तुत किया गया। श्रीमान विवेकानंद त्रिवेदी, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, जिला नीमच द्वारा वाहन सुपुर्दगी आवेदन को खारिज किया गया।