शहर के प्रतिष्ठित व्यवसाई के युवा पुत्र की कोरोना से दुखद मृत्यु, 40 दिन संघर्ष किया 26 वर्षीय युवा ने

उज्जैन शहर के प्रतिष्ठित व्यवसाई मनोज शर्मा, निवासी सेठी नगर के 26 वर्षीय पुत्र प्रणव शर्मा की कोरोना से दुखद मृत्यु हो गई है। श्री मनोज शर्मा ने स्वयं फेसबुक पर पोस्ट डालकर इसकी पुष्टि की है, बताया जाता है कि प्रणव शर्मा 13 सितंबर को कोरोना पॉजिटिव आए थे उस वक्त वे तेजनकर अस्पताल में भर्ती थे, बाद में तबीयत में सुधार ना होने के कारण उन्हें इंदौर के सीएचएल अस्पताल में 17 सितंबर को भर्ती किया गया था, जहां 35 दिन के संघर्ष के बाद उन्हें नहीं बचाया जा सका, सूत्रों के मुताबिक उनके इलाज पर 1500000 रुपए से भी ज्यादा का खर्चा किया गया था, सेठी नगर निवासी प्रणव शर्मा की दुखद मृत्यु पर शहर के नागरिक स्तब्ध है, इतने बड़े खर्च के बावजूद एक युवा का इस तरह चले जाना बेहद दर्दनाक है। जो लोग कोरोना को लेकर गंभीर नहीं है,उन्हें इस मौत से सबक लेना चाहिए।