दूसरी शादी करना महंगा पड़ा, बीवी के बदले घर में आ गई डायन


उज्जैन।। लाखेरवाली में सोना चांदी व्यापारी को ₹500000 की टोपी पहना दी और व्यापारी से लाखों रुपए की मांग और कर रही है। इस बारे में पत्रकार वार्ता लेते सोना चांदी व्यापारी देवेंद्र कोठारी निवासी सूरज नगर ने बताया कि मेरी पत्नी संगीता कोठारी की 20 19 2016 में कैंसर की बीमारी से मौत हो गई थी  मेरी पत्नी से एक 13 साल का पुत्र और 16 साल की पुत्र  दिव्यांश तनीषा है इनके पालन पोषण के लिए मैंने दूसरा विवाह करने का फैसला लिया था इसी दौरान मेरी बहन बबीता जो की छतरी चौक पर स्थित मुल्लाजी की अंडर गारमेंट की दुकान पर काम करती थी उनसे मेरी बातचीत शादी के संबंध में हुई तो उन्होंने मुझे बताया कि एक लड़की मेरी नजर में है जो कि तुम्हारा घर संभाल लेगी और बच्चों को भी मां का प्यार देगी जिसके चलते मेरी बहन बबीता ने जिस लड़की के बारे में बताया था उस मीना मालवीय पिता रामचंद्र जी के थाना जीवाजीगंज पीछे उज्जैन से मेरी मुलाकात हुई और बातचीत के बाद  2017को मैने मीना मालवीय से विवाह कर लिया उसके बाद मेरे परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट गया और मेरी पत्नी ने विवाह के 15 दिन बाद ही अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए मुझे जलील करना शुरू कर दिया मेरे दोनों बच्चों को मारपीट शुरू कर दी और  जब मैंने अपने पत्नी मीना को समझाने का प्रयास किया तो उसने मुझे हरिजन थाना थाने में बंद कराने की धमकी दी और कहा कि अपने परिवार से अलग मकान लो नहीं तो मैं तुम्हें थाने में झूठा फंसा दूंगा इसके बाद मेरी पत्नी ने मेरी मां मेरे परिवार वालों की शिकायत थाने में महिला थाने में कर दी जिससे कि मैं मानसिक रूप से 48 हूं और अभी तक मेरी पत्नी मुझे डरा धमकाकर ₹500000 से ज्यादा हो चुकी है और आगे भी वहां पैसे रखने के लिए मुझे झूठे केसों में फंसाने की धमकी दे रही है मैंने पुलिस अधीक्षक व थाने में मेरी पत्नी की शिकायत की है लेकिन अभी तक इस मामले में कोई सुनवाई नहीं हुई है इसलिए मैं पत्रकारों के सामने आकर अपनी का पत्नी की करतूत बता रहा हूं अगर हमारे पूरे परिवार के साथ न्याय नहीं हुआ है और मेरी लुटेरी पत्नी के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई तो मेरा पूरा परिवार कोई भी घातक कदम उठा सकता है जिसके जिम्मेदार मेरी धर्मपत्नी मीना मालवीय की होगी 


Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
हाल बेहाल,,,,, गंभीर मरीज के सामने मरने के अलावा कोई रास्ता नहीं,,,,,,, जिले के प्रभारी मंत्री का फोन भी बंद ,,,,,,,प्रशासन ने भी जानकारी के लिए कोई नंबर सार्वजनिक नहीं किया,,,,,,, गंभीर मरीज क्या करें यह उसे बताने वाला कोई नहीं
Image
पत्रकार आम जनता की आवाज बने ,कलम से ज्यादा कुछ भी ताकतवर नहीं,
Image