खाद्य सामग्री दान में प्राप्त करने हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त सामाजिक संस्थाओं की निगरानी में सामग्री का वितरण होगा

 


उज्जैन   कोरोना वायरस की इस आपातकालिन स्थित में बेसहारा, बेघर  लोगो के  लियर  नई व्यवस्था प्रारम्भ  की  जा   रही  है। कई लोगो की मांग आ रही है कि वे ऐसे जरूरतमंद लोगो को आटा, दाल, चावल, तेल, चाय पत्ती, शक्कर इत्यादी सूखी सामग्री देना चाहते है। इस हेतु कलेक्टर  श्री  शशांक मिश्र  द्वारा खाद्यान्न सामग्री एकत्रित करने के लिये जिला स्तर पर एक टीम बनाई गई है। उनके मोबाईल नंबर पर यह मेसेज/वाट्सप पर डिटेल डालकर या काल करके कोई भी जनसेवक व्यक्ति/संस्थाए जरूरतमंद लोगो के लिए राहत सामग्री दे सकते है। इसप्रकार दी गई सामग्री चिमनगंज मण्डी में स्थित   श्री  गोविंद  खण्डेवाल   मण्डी प्रांगण उज्जैन  स्तिथ  गोदाम में इकट्ठी जावेगी वहाॅ वहाॅ से जरूरतमंद लोगो को आवष्यकता अनुसार राषन सामग्री के पैकेट बनाकर उपलब्ध सामाजिक संस्थाओं की निगरानी में सामग्री का वितरण कराया जायेगा।


       इस कार्य के लिये नोडल टीम का गठन किया गया है जिसके *नोडल अधिकारी श्री एच.जी. सोनगरा मण्डी सचिव मोबाईल नंबर 9425479972 तथा सहायक नोडल अधिकारी श्री मनीष वर्मा जिला प्रबंधक वेयर हाउसिंग लाजिस्टिक कार्पोरेषन शाखा उज्जैन मोबाइल 9424898777 एवं सहयोगी अधिकारी श्री गजेन्द्र मेहता उपयंत्री मोबाईल-9425379714, श्री अष्विन पहाड़िया मंडी निरीक्षक मोबाईल नंबर 9827288218, श्री राकेष रायकवार मण्डी निरीक्षक मोबाईल 7000318977, श्री दिपक श्रीवास्तव सहायक उप-निरीक्षक मोबाइल 9826996191  है ।उक्त टीम द्वारा पूरी राषन सामग्री का रिकार्ड संधारित किया जायेगा। एकत्रित कि गई राषन सामग्री को वितरण जरूरतमंद लोगो किया जावेगा ताकि कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे। 


Popular posts
अखाड़ा परिषद् अध्यक्ष नरेंद्र गिरी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत
Image
देश के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले वीर जवानों को श्रद्धांजलि
स्ट्रांग रूम का निरीक्षण करने के लिए राजनीतिक दल आमंत्रित 
फेसबुक गैंग के गुंडे दुर्लभ कश्यप की हत्या
Image
सरकारी जमीन पर तान दी मल्टी, टीएनसीपी ने निरस्त की अनुमति, नगर निगम ने भ्रष्टाचार की सीमा तोड़ी,,, बिल्डर ने शासकीय अधिकारी एवं इंजीनियरों से सांठगांठ कर अवैध मल्टी का निर्माण करने पर नगर निगम इंजीनियर मीनाक्षी शर्मा, भवन अधिकारी रामबाबू शर्मा, नगर निवेशक मनोज पाठक पर धारा 420, 467, 468, 471, 120-बी भादवी एवं भ्रष्टाचार का प्रकरण दर्ज करने की मांग की थी
Image