कोरोना महामारी का सबसे बड़ा कारण मांसाहार - संत उमाकान्त जी महाराज


  • उज्जैन (मप्र)



बन्द होगी मांस की दुकान तब बचेगी मानव की जान - महाराज जी


देश और दुनियां की जनता को वैश्विक महामारी कोरोना से बचाने के लिए उज्जैन के परम संत उमाकान्त जी महाराज जी ने व्यक्ति,समाज और राष्ट्र के कर्णधारों से प्रार्थना करते हुए कहा कि जब खराब समय आये तो उसे होशियारी से पार करो और होशियारी से पार करने का उपदेश दो । खराब समय मे लोगों की मदद करो । 
तो ये कोरोना रोग दुनियां में फैला है, छुआछूत का रोग है । तो सभी लोग इसकी दवा खोज रहे है ,मैं भी दवा खोज रहा हूँ ।अगर ये लोग दवा खोज ले तो अच्छी बात है वरना मैं भी मंथन कर रहा हु , दवा खोज रहा हूँ अगर हमको अवसर मिला,हमको ठीक लगा तो हम दवा बता देंगे कि परीक्षण कर लीजिए ।


मांस से आया कोरोना 


महाराज जी ने कोरोना का सबसे बड़ा कारण मांसाहार को बताते हुए कहा कि कोरोना की सबसे बड़ी जड़ है मांस का भक्षण ।
मांसाहार से खून बेमेल हो जाता है और तरह-तरह की बीमारियां आती हैं और कोरोना जैसे असाध्य रोग लग जाते है ।जिनकी दवाएं खोजने पर भी नही मिलती है। बड़े-बड़े वैज्ञानिकों का दिमाग काम नही कर रहा है ।कहते तो है कि लड़ाई जारी है पर किससे जारी है उसे ना देख पा रहे है ना जान पा रहे है ।
"कोरोना" नाम तो रख दिया पर समझ नही पा रहे है ।तो कोरोना का सबसे मूल कारण है 
मांसाहार ।


शाकाहारी से ज्यादा मांसाहारी हो रहे कोरोना का शिकार



महाराज जी ने बताया कि हमारे गुरु महाराज बाबा जयगुरुदेव जी ने भी अपने जीवनकाल में शाकाहार का प्रचार किया और अब हम भी इसी काम मे लगे है और प्रेमी भी लगे है। तो अब लोग समझने लगे है कि कोरोना का प्रभाव उतना शाकाहारियों पर नही हो रहा जितना मांसाहारियों पर हो रहा है । चाहे भारत हो या विदेश ज्यादातर मांसाहारी ही कोरोना का शिकार हो रहे है ।तो मांसाहार छोड़ रहे है लेकिन जुबान के स्वाद के इतने आदि हो गए है कि मन नही मानता है ।


बन्द होगी जब मांस की दुकान तब बचेगा हिंदुस्तान ।


पूर्णिमा के अवसर पर महाराज जी ने भारत वर्ष से आह्वान किया की आज पूर्णिमा के दिन उन लोगों से प्रार्थना करता हूँ  जो लोग जानवरों को मारते है, काटते है और मांस तैयार करते है तो वो लोग इस काम को बंद कर दे । ये काम अगर बन्द कर देंगे तो मांस मिलेगा नही और जब मिलेगा नहीं तो लोग खाएंगे नहीं तो जीव रक्षा हो जाएगी । जीव रक्षा ज़रूरी है ।क्योंकि जीव हत्या सबसे बड़ा पाप है और पाप की सज़ा मिलती है । वेद,कुरान,पुराण सभी धर्म पुस्तकें बताती है कि कर्मों की सज़ा मिलती है । तो हमारी प्रार्थना है कि अपने लिए अपने बच्चों के लिए घर,समाज और राष्ट्र को बचाने के लिए आप मांस की दुकानों को बंद कर दीजिए । जानवरों को काटना बन्द कर दीजिए । जो लोग स्लॉटर हाउस (बूचड़खाने) चलाते है उनसे भी प्रार्थना है कि अपने बच्चों के भविष्य के लिए,अपने अपने देश को बचाने लिए ऐलान कर दो की आज से गाय नही काटेंगे । स्लाटर हाउस बन्द कर देंगे ।


 


Popular posts
जिलाधीश बंगले के समीप रहने वाले अधिकारी सहित 5 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई, 3 को लग चुके थे बूस्टर डोज, आने वाले दिनों में स्थिति और भी बिगड़ सकती है
Image
9 पीठासीन अधिकारी, 26 मतदान अधिकारियों को कारण बताओ सूचना-पत्र जारी
Image
राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के मौके पर वैकल्पिक चिकित्सक संघ द्वारा आयोजित 13 वाॅ अखिल भारतीय चिकित्सक सम्मान समारोह 1 जुलाई को स्थानीय कालिदास अकादमी उज्जैन में सम्पन्न हुआ...
Image
इंदौर में कोरोना ब्लास्ट,हर दूसरा सैंपल पॉजिटिव
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image