पटनी बाजार का प्रसिद्ध ज्वेलर्स चपेट में आया, प्लाजमा थेरेपी से उपचार लेने वालेे पहले मरीज की भी मौत हुई

उज्जैन। आज जारी हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक शहर में 2 दिन की राहत के बाद तीन पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं, एक मरीज की आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज में मौत भी हो गई है। आज प्राप्त 229 रिपोर्ट में से तुलसी नगर निवासी 51 वर्षीय पुरुष और इंदिरा नगर में रहने वाले पति पत्नी कोरोना की चपेट में आ गए हैं, अरविंद नगर के पास स्थित तुलसी नगर में जो 51वर्षीय पुरुष कोरोना पॉजिटिवआया है वह शहर का प्रसिद्ध ज्वेलर्स है, पटनी बाजार में प्रसिद्ध और प्राचीन दुकान है इसके साथ ही उक्त व्यक्ति क्रिकेटर भी है,,ज्वेलर्स के भाई की निजातपुरा में प्रसिद्ध लैबोरेट्री भी है, बताया जाता है कि उक्त व्यक्ति कुछ दिनों से सीएचएल अस्पताल में उपचार ले रहा था, सांस लेने में तकलीफ के चलते उसे आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया था जहां जांच के दौरान उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई, सोना चांदी बाजार में उक्त व्यक्ति के पॉजिटिव आने से हलचल मच गई है। इसके अलावा आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज में गोवर्धन धाम नगर में रहने वाले एक व्यक्ति की मौत भी हो गई है, उक्त व्यक्ति की दो बार रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी और प्लाजमा थेरेपी से उज्जैन में इलाज करवाने वाला यह पहला व्यक्ति था, सूत्रों के मुताबिक इससे कुछ अन्य रोग भी थे जिसके कारण प्लाजमा थेरेपी से इलाज करने के बावजूद इसे बचाया नहीं जा सका। प्रशासन के प्रेस नोट के मुताबिक उज्जैन में अब कोरोना के मरीजों की संख्या 859 हो गई है इनमें से 764 डिस्चार्ज हो चुके हैं 24 भर्ती है और 71 की मौत हो चुकी है। आज जिस व्यक्ति की मौत हुई है बताया जाता है कि यह रेलवे स्टेशन पर वेंडर था।


Popular posts
ओ माय गॉड,,,, महाकाल में नौकरी और करतूत इतनी गंदी,,,,,,
Image
अमलतास हॉस्पिटल में पत्रकार सम्मान व कॉकलियर इम्प्लांट ऑपरेशन किया गया।
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
122 साल पुराने उज्जैन के नक्शे को आधार बनाकर,,, तालाबों की जमीन हड़पने वालों पर शिकंजा कसेगा,,, उज्जैन जिलाधीश के निर्देश से जमीन पर कब्जा करने वालों में हड़कंप मचा
Image
उज्जैन कलेक्टर के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि,,,130 करोड़ रुपये कीमत की 3 हेक्टेयर जमीन शासकीय हुई,,,,पूर्णिमा सिंघी, प्रमोद चौबे और श्री राम हंस यह है तीन आधार स्तंभ जिनकी मेहनत और सच्चाई रंग लाई
Image