साबुन खरीदने गया और कोरोना घर ले आया, शहीद पार्क का तंबाकू गुटखा पाउच बेचने वाला होलसेलर भी चपेट में आया, जिस बिल्डिंग में कोरोना आया वहा ब्यूटी पार्लर भी संचालित

उज्जैन। कोरोना कब कहां और कैसे आपके घर में प्रवेश कर जाए यह कोई नहीं जानता इसलिए आज इस न्यूज़ के माध्यम से हम आपको कोरोना पॉजिटिव आए एक व्यक्ति से हुई चर्चा के कुछ अंश साझा कर रहे हैं ।जिससे आप अपनी और अपने परिवार की रक्षा कर सकें। दरअसल उदयनमार्ग स्थित एक पाश कॉलोनी से कल एक युवक जिसका नाम अंकित है (बदला हुआ नाम) को कोरोना पॉजिटिव आया है, अंकित ने दैनिक मालव क्रांति को बताया कि परिवार में पत्नी और तीन छोटे बच्चे है, बच्चों के कारण पिछले ढाई महीने से कभी भी घर के बाहर नहीं निकला, लॉकडाउन खुलने के बाद कुछ जरूरी किराना सामान, बच्चों के कुछ कपड़े और साबुन खरीदने के लिए घर से बाहर निकला, अंकित के अनुसार सेठी नगर स्थित एक मेडिकल शॉप से (मेडिकल शॉप चलाने वाले के परिवार के 10 -12 सदस्य कोरोना पॉजिटिव है) हाथ धोने की साबुन खरीदी और इसी साबुन से उनके घर में कोरोना ने प्रवेश कर लिया, अंकित के मुताबिक घर से बाहर निकलते वक्त मास्क और हैंड ग्लव्स के अलावा उन सारी बातों का भी ख्याल रखा जो जरूरी था लेकिन इन सबके बावजूद उसे कोरोना हो गया, मार्केट खुलने के बाद अंकित के मुताबिक दौलतगंज ,सेठी नगर और सती गेट के अलावा कहीं नहीं गया। उक्त युवक ने 20 से अधिक टेस्ट भी करवाए थे जिसमें वह फीट निकला, अंकित को आशंका है कि मेडिकल शॉप से ही उसके घर में कोरोना आया। इधर अनलॉक के कारण कमला नेहरू मार्ग पर रहने वाले एक परिवार के 40 से अधिक सदस्य मुसीबत में आ गए हैं ,मुसीबत का कारण परिवार के 4 सदस्य को कोरोना पॉजिटिव आना है, कमला नेहरू मार्ग पर एक चर्चित कॉस्मेटिक की दुकान के सामने जिस परिवार में कोरोना आया है उनका तीन मंजिला भवन है और इस भवन में चार पांच भाइयों की फैमिली रहती है ।गाउन, लेडीज सूट शॉप से लेकर ब्यूटी पार्लर इस भवन में संचालित किया जाता है, जिस व्यक्ति के परिवार को कोरोना हुआ है उसका शहीद पार्क पर होलसेल में सुपारी और पाउच बेचने का व्यापार है, कांटेक्ट हिस्ट्री यदि पता की जाए संभवत 200 से 300 लोग इस परिवार के संपर्क में आए होंगे।इस परिवार में कोरोना आने के कारण फ्रीगंज के सबसे पॉश मार्केट कमला नेहरू मार्ग पर व्यापारियों में सनसनी फैल गई है, क्योंकि इसी मार्ग पर ब्रांडेड सामान बेचने वाली अनेक दुकानें हैं, अलकापुरी और कमला नेहरू मार्ग के अलावा फ्रीगंज, पार्श्वनाथ टावर ,माधव नगर, बेताल मार्ग ,ऋषि नगर ,लक्ष्मी नगर ,प्रकाश नगर ,वेद नगर ,अलखधाम कॉलोनी ,देवास रोड स्थित बैंक कॉलोनी घास मंडी चौराहा ,देसाई नगर और नानाखेड़ा में धीरे धीरे कोरोनावायरस आ रहा है यदि सावधानी नहीं रखी गई तो ओल्ड सिटी से भी ज्यादा खतरनाक स्थिति फ्रीगंज क्षेत्र की हो सकती है, क्योंकि कोरोना व्यापारिक प्रतिष्ठानों में प्रवेश कर गया है और इन प्रतिष्ठानों पर कितनी भीड़ लग रही है इसका अंदाजा लगाना मुश्किल है फिर भी एक प्रतिष्ठान पर 50 से 100 लोग प्रतिदिन संपर्क में आते हैं। कल आप देर रात जारी किए गए हेल्थ बुलिटिन ने इस तरह एक बार फिर चौकाया।


Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
पूर्व मंत्री बोले सरकार तो कांग्रेस की ही बनेगी
Image
नवनियुक्त मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को उज्जैन तथा अन्य जिलों से आए जनप्रतिनिधियों कार्यकर्ताओं और परिचितों ने लालघाटी स्थित वीआईपी विश्रामगृह पहुंचकर बधाई और शुभकामनाएं दी
Image