आईडीबीआई बैंक में काम करने वाले एक धोखेबाज ने ग्राहकों की एफडी से 89 लाख रुपए निकाल लिए, आरोपी पंकज पचौरी गिरफ्तार

उज्जैन। बैंक में काम करने वाले एक कर्मचारी द्वारा ग्राहकों की FD 89 लाख रूपए निकालने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। आईडीबीआई बैंक में काम करने वाले एक ऐसे धोखेबाज को पुलिस ने गिरफ्तार किया है जिसने बैंक के ग्राहकों को ही लाखों का चूना लगा दिया । पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी पर 5000 का इनाम घोषित कर रखा था। गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम पंकज पिता दीनदयाल पचौरी है वह आईडीबीआई बैंक में काम करता था। उसका काम लोगों के बैंक खाता खोलना था। इसी के चलते उसने कई ग्राहकों से नजदीकी संबंध बना लिए थे और उनके ब्लेंक चेक सहित आईडी पासवर्ड आदि ले रखे थे। आरोपी ने इसी का फायदा उठाया और ग्राहकों के खाते से 89 लाख रुपये निकाल लिए। इसकी शिकायत गजेंद्र माली, अनिल माली, लखन,कैलाश, सन्नू बाई ने बैंक में की थी कि उनके खातों से लाखों रुपए निकाल लिए गए हैं। इस पर बैंक ने माधव नगर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद से ही आरोपी पंकज पचौरी फरार हो गया था। पुलिस तभी से उसकी तलाश कर रही थी पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह ने आरोपी पर की गिरफ्तारी पर ₹5000 का इनाम भी घोषित किया था। माधव नगर पुलिस की टीम ने शुक्रवार को उसे दबोच लिया। माधव नगर थाना प्रभारी पीएन शर्मा के मुताबिक आरोपी बहुत शातिर है। उसने लोगों को भरोसे में लेकर उनसे ब्लेंक चेक, आईडी, पासवर्ड आदि लिए थे और उनके खातों से 89 लाख रुपये निकाल लिए थे।


Popular posts
122 साल पुराने उज्जैन के नक्शे को आधार बनाकर,,, तालाबों की जमीन हड़पने वालों पर शिकंजा कसेगा,,, उज्जैन जिलाधीश के निर्देश से जमीन पर कब्जा करने वालों में हड़कंप मचा
Image
उज्जैन कलेक्टर के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि,,,130 करोड़ रुपये कीमत की 3 हेक्टेयर जमीन शासकीय हुई,,,,पूर्णिमा सिंघी, प्रमोद चौबे और श्री राम हंस यह है तीन आधार स्तंभ जिनकी मेहनत और सच्चाई रंग लाई
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
उज्जैन के विश्वप्रसिद्ध महाकाल मंदिर परिसर में बिना अनुमति के युवती द्वारा वीडियो बनाकर वायरल किए जाने पर प्रकरण पंजीबद्ध
Image