जिला पंचायत में कार्यरत महिला अधिकारी की इंदौर के अरविंदो में कोविड-19 के उपचार के दौरान मौत, जिला पंचायत में हड़कंप मचा, अंतिम संस्कार उज्जैन में हुआ

उज्जैन। जिला पंचायत मैं PCO को के पद पर कार्यरत एक महिला अधिकारी की इंदौर के अरविंदो अस्पताल में कोविड-19 के इलाज के चलते मौत हो गई है, उज्जैन के साकेत नगर में रहने वाली 58 वर्षीय महिला की रिपोर्ट 22 जून को कोरोना पॉजिटिव आई थी, फेफड़ों में गंभीर संक्रमण के कारण उक्त महिला रिपोर्ट आने के 2 के दिन पहले से ही उज्जैन के तेजनकर अस्पताल में भर्ती थी,जिसे पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद अरविंदो इंदौर में भर्ती किया गया था, जहां आज सुबह उसकी मौत हो गई, पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक उक्त महिला अधिकारी कोरोना की चपेट में आने के पहले विभागीय मीटिंग में शामिल हुई थी और इसी मीटिंग के बाद वह संक्रमित हुई और पिछले 1 माह से इंदौर के अरविंदो अस्पताल में वेंटीलेटर पर ही थी,कोविड-19 से मरने वालों की सूची में इस मौत को दर्ज किया जाएगा या नहीं इसकी पुष्टि अभी नहीं हुई है, लेकिन एक काबिल महिला अधिकारी की इस तरह कोविड-19 की चपेट में आने के बाद मौत होने से शासकीय विभागों में हड़कंप मचा हुआ है, क्योंकि शासकीय विभागों में कार्यरत अनेक कर्मचारी और अधिकारी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं, कुछ के परिवार में भी संक्रमण पहुंचा है। सूत्रों के मुताबिक 7 दिन पहले महिला की रिपोर्ट नेगेटिव आ गई थी। महिला अधिकारी का उज्जैन में ही अंतिम संस्कार हुआ है।


Popular posts
डराने लगा है कोरोना, महिला जज, प्रोफेसर पति पत्नी,, कॉलेज के प्राचार्य सहित 19 पॉजिटिव,
Image
महाकाल मंदिर परिसर में 9 दरवाजे रहेंगे, बेगम बाग के नाले पर बने मकान 15 मार्च से हटेंगे, आधा अपंगआश्रम मार्ग चौड़ीकरण कि जद में आएगा, महाकाल मंदिर चौराहा मार्ग 24 मीटर चौड़ा होगा, 128 करोड़ का मुआवजा मार्ग चौड़ीकरण में प्रभावितों को दिया जाएगा
Image
कोरोना के मरीजों की संख्या में आश्चर्यजनक वृद्धि होने से एक और जहां शहर में दहशत , वहीं दूसरी ओर प्रशासन की कार्यप्रणाली भी संदेह के घेरे में है
Image
लोकायुक्त टीम के 3 अधिकारी और 30 सदस्यों की टीम ने तीन स्थानों पर की कार्रवाई
Image
उज्जैन लोकायुक्त ने बिल्डर सहित नगर निगम के चार अधिकारियों पर FIR दर्ज की
Image