डकैतों की गैंग को भी पीछे छोड़ा कोरोना का इलाज करने वाले अस्पताल ने, 22 दिन तक लूटते रहे मरीज को,, उज्जैन के कुछ अस्पतालों में भी लूट चालू 

 प्रबंधन बना नर- पिशाच, कोरोना संक्रमित को 22 दिनो तक भर्ती रखा,6 लाख का बिल थमाया


इंदौर।भवरकुआं स्थित एप्पल हॉस्पिटल पर पुलिस प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कल छापामार कार्यवाही की थी ,एक मरीज द्वारा की गई शिकायत पर कलेक्टर ने ये कार्यवाही करवाई , जब्त बिलों और प्राप्त रिकार्ड के आधार पर जूनी इंदौर एसडीएम और डॉ अमित मालाकार ने जो जांच प्रतिवेदन तैयार किया उसमें मुख्य रूप से इस तरह की अनियमितताएं मिली है।


22 दिन तक कोरोना मरीज को हॉस्पिटल में भर्ती रखा गया और लगभग 6 लाख का बिल थमा दिया।हॉस्पिटल प्रबंधन ने इतने भारी भरकम बिल के बावजूद एक लाख की दवाइयां अलग से मंगवाई।पीपीई किट , आइसोलेशन चार्ज और यूनिवर्सल प्रोटेक्शन के नाम पर प्रतिदिन 9000 के हिसाब से राशि वसूल की गई,आईसीएमआर के निर्देश और डब्लूएचओ की गाइडलाइन के विपरीत एसिंप्टोमेटिक मरीज होने के बावजूद चार बार आरटी पीसीआर कोविड टेस्ट निजी लैब से करवाया गया, इसमें भी निजी लैब में जो टेस्टिंग चार्ज लगता है, उससे अधिक शुल्क मरीज से वसूल किया गया , एक बार भी ये टेस्ट करवाने की आवश्यकता नहीं थी,बावजूद इसके बार-बार करवाए गए ।


हॉस्पिटल की लूट यही खत्म नही हुई बल्कि तीन से चार डॉक्टरों की रोजाना विजिट करवा कर प्रत्येक डॉक्टर की 3 हजार रु फीस चार्ज की गई और एक लाख की राशि तो डॉक्टरों की विजिट के ही रूप में मरीज से वसूल कर ली।छापे के दौरान हॉस्पिटल से जो बिल और रिकार्ड मिले थे उनकी जांच में भी कई तरह की असमानता नजर आई , हर मरीज से लिए गए शुल्क की राशि में भी अंतर मिला।अब प्रशासन जांच प्रतिवेदन के आधार पर हॉस्पिटल प्रबंधन को नोटिस देगा और इस मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी ।


कलेक्टर मनीष सिंह पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि निजी अस्पतालों को कोविड के नाम पर इस तरह की लूटपट्टी नहीं करने दी जाएगी ।उज्जैन में भी एक निजी हॉस्पिटल द्वारा कोरोना पेशेंट के इलाज का मामला सामने आया था, शिकायत के बाद जांच में क्या निकला, अभी तक क्या कार्रवाई की ,किसी को कुछ पता नहीं। उज्जैन के निजी अस्पतालों में भी कोरोना के नाम पर मरीजों को लूटा जा रहा है शहर के अनेक अस्पतालों में कोरोना मरीजों का उपचार किया जा रहा है, इन अस्पतालों में गाइड लाइन का पालन भी नहीं किया जा रहा है


Popular posts
मेडिकल कॉलेज के 66 स्टूडेंट कोरोना पॉजिटिव आए
Image
आगर में हड़कंप मचा,,,, जानिए अब कौन से flu ने दस्तक दी
Image
मध्यप्रदेश में 10 दिन में 160 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आए भोपाल और इंदौर में सर्वाधिक मरीज मिले
Image
पूजा भट्ट का हॉट लुक होश उड़ा देगा दर्शकों का
Image
सिटी स्कैन करवाने वालों की रिपोर्ट देखेगा जिला प्रशासन,,,,मास्क और वैक्सीनेशन के जरिए नए वेरिएंट की दस्तक को रोकने की तैयारी 9 में से 8ऑक्सीजन प्लांट वर्किंग पोजीशन में,,,, 5 गुना ज्यादा तेजी से फैलता है नया वेरिएंट मध्यप्रदेश में दे सकता है दस्तक
Image