8 हेल्थ वर्कर, 8 शासकीय कर्मचारी और प्राधिकरण का बाबू पॉजिटिव आया, स्वास्थ्य विभाग और शासकीय विभागों में हड़कंप मचा,,

उज्जैन ।पॉजिटिव आने वाले मरीजों ने आज स्वास्थ्य विभाग और शासकीय विभागों के होश उड़ा दिए हैं ,आज पॉजिटिव आने वाले 47 मरीजों में से अधिकांश स्वास्थ्य विभाग और शासकीय विभाग में कार्यरत हैं, जिसकी वजह से कॉविड 19 के मरीजों की देखभाल करने वाला स्वास्थ्य विभाग सकते में है ।आज 8 पॉजिटिव स्वास्थ्य विभाग से हैं इनमें एक डॉक्टर सहित 8 अन्य हेल्थ वर्कर है इसी प्रकार आज पॉजिटिव आने वालों में 8 शासकीय कर्मचारी और अधिकारी है ,पॉजिटिव आने वाले अन्य में कृषि उपज मंडी में दुकान संचालित करने वाले ,इंजीनियर, बैंक और फाइनेंस कंपनी में काम करने वाले, प्राइवेट जॉब करने वाले ,फ्रूट का ठेला लगाने वाले, ट्रांसपोर्टर ,कंप्यूटर ऑपरेटर और पुलिस वाले शामिल है। पॉजिटिव आने वाले हेल्थ वर्कर में महानंदा नगर निवासी 52 वर्षीय पुरुष, मणिनगर निवासी 39 वर्षीय महिला ,पंचमपुरा की बस्ती में रहने वाला 50 वर्ष का पुरुष ,ऋषि नगर में रहने वाला 51 वर्षीय पुरुष ,आनंद नगर की 32 वर्षीय युवती ,राज रतन सोसाइटी में रहने वाली 32 वर्षीय महिला डॉक्टर ,बडनगर का 42 वर्षीय पुरुष, बडनगर का 47 वर्षीय पुरुष यह सभी हेल्थ वर्कर है ,कुछ शहर के प्रतिष्ठित डॉक्टरों के यहां तो कुछ अस्पताल में कार्यरत है। पॉजिटिव आने वालों में विकास प्राधिकरण में कार्यरत 50 वर्षीय पुरुष ऋषि नगर में रहता है। पॉजिटिव आने वालों में अन्य शासकीय कर्मचारी और अधिकारी में अथर्व विहार में रहने वाले 55 वर्षीय पुरुष, सुदामा नगर में रहने वाले 47 वर्षीय पुरुष, विश्व बैंक कॉलोनी में रहने वाले 40 वर्षीय पुरुष, प्रदीप बिहार में रहने वाले 51 वर्षीय पुरुष ,शंकरपुरा में रहने वाली 56 वर्षीय महिला ,महिदपुर में रहने वाले 25 वर्षीय पुरुष, बड़नगर के 50 वर्षीय पुरुष के अलावा नागदा में रहने वाला 35 वर्षीय पुरुष पुलिस में है। ऋषि नगर में एक ही परिवार में 2 सदस्य पॉजिटिव आए हैं इनमें से एक 21 वर्षीय युवती स्टूडेंट है जबकि 51 वर्षीय पुरुष हेल्थ वर्कर है । विराटनगर में रहने वाला 20 वर्षीय युवक फ्रूट का ठेला लगाता है ।जवाहर नगर में रहने वाला 55 वर्षीय पुरुष इंजीनियर है।


Popular posts
सवारी मार्ग खुली जेल में तब्दील हुआ,,, श्रद्धालु बोले ऐसे अव्यवहारिक निर्णय आखिर लेता कौन है,,,,,,
Image
ओम साईं फरिश्ते फाउंडेशन एनजीओ द्वारा देश में सभी जरूरतमंद परिवार को निशुल्क रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए एक पहल
Image
फेसबुक गैंग के गुंडे दुर्लभ कश्यप की हत्या
Image
महापौर मधुकर वर्मा के कांग्रेस की परिषद थी, महापौर थे मधुकर वर्मा तब भी चलता था लेनदेन का खेल ,,, निगम के इंजीनियरों ने रिश्वत की राशि के लिए बना रखा था गंगाजलि फंड
Image
नीलगंगा थाना के आरक्षक की अचानक मौत,,,,,,,,,,उज्जैन। नीलगंगा थाने के आरक्षक अनिल माटोली की आज घर से डयूटी के लिए जाते समय मौत हो गई। बताया जाता है कि आरक्षक अनिल को अचानक घबराहट की शिकायत हुई थी इस पर परिजन उन्हें सीएचएल ले गए, वहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। मामले में नीलगंगा थाना टीआई कुलवंत जोशी ने बताया कि उक्त आरक्षक स्वस्थ था, कोई गंभीर बीमारी के लक्षण नहीं थे, अचानक तबीयत बिगड़ी और निधन हो गया।
Image