मानवता को शर्मसार करने वाली,,, इंदौर के एमवाय की तस्वीर सामने आई

इंदौर ।शहर के सबसे पुराने और सबसे बड़े महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय जिसे एम वाय कहा जाता है की एक शर्मनाक और मानवता को शर्मसार कर देने वाली तस्वीर सामने आई है। इस तस्वीर से यह साफ हो गया है कि कोरोना काल में मानव जीवन की कोई कीमत नहीं है, एमवाई में सामने आई तस्वीर में एक लाश है जो नर कंकाल में बदल गई है ,मरचूरी रूम में रखी यह लाश किसकी है, इसकी जानकारी किसी के भी पास नहीं है, मामला सामने आने के बाद अस्पताल प्रबंधन अब यह तर्क दे रहा है कि हमारे पास 16 फ्रीजर है और कभी कभी 20 से अधिक डेड बॉडी आ जाती है। अस्पताल प्रबंधन का यह भी कहना है कि लाश 10 दिन पुरानी है पुलिस द्वारा भेजे जाने वाले अज्ञात शव को 7 दिन तक रखा जाता है ,यह शव अस्पताल कौन लाया, कब लाया और क्यों इसे अंतिम संस्कार के लिए नहीं भेजा गया, इसकी जांच की जा रही है। बरहाल मानव जीवन के साथ खिलवाड़ की यह तस्वीर इस बात की गवाह है कि मध्यप्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल के हालात कितने बिगड़ चुके हैं यह तस्वीर इस बात की गवाही है कि प्रशासन कितना गंभीर है? और खासकर इंदौर का प्रशासन कितना सख्त और संवेदनशील है? भयंकर बदबू के बावजूद उक्त लाश को अंतिम संस्कार के लिए नहीं भेजा जाना शर्मनाक है। (समाचार के साथ लगाई तस्वीर दैनिक भास्कर से साभार ली गई है, इस तरह की तस्वीर मन को विचलित कर देने वाली है ,लेकिन सच्चाई भी सामने लाना जरूरी है)