गांजे की अवैध खेती करने वाले आरोपी को भेजा जेल 

 न्यायालय माननीय विशेष न्यायायल महोदय बड़वानी श्री दिनेशचन्द्र थपलियाल द्वारा अपने आदेश से गांजे के पौधे की खेती करने केे आरोप मे आरोपी भीमसिंह पिता पांड्या उम्र 58 साल निवासी सुखपुरी थाना सिलावद, जिला बड़वानी को धारा 8,20 एन.डी.पी.एस. एक्ट के तहत जेल भेजा गया।   


अभियोजन मीडिया प्रभारी कीर्ति चौहान ने बताया कि घटना दिनांक 11.10.2020 को थाना सिलावद पर पदस्थ पुलिस अधिकारी को मुखबीर से सूचना मिली कि आरोपी भीमसिंह के खेत में गांजे के अवैध पौधे उगाये जा रहे है मुखबीर की सूचना पर विश्वास कर राहगीर पंचान व हमराही आरक्षकों को मुखबीर की सुचना से अवगत कराया एवं हमराह लेकर मुखबिर द्वारा बताये गये स्थान आरोपी भीमसिंह के खेत पर पहुँचने पर आरोपी के खेत में लगे कपास व तुअर के बीच में तलाशी लेने पर फसल के बीच बीच में गांजे के हरे पौधे पाये गये। आरोपी के खेत से 364 नग हरे गांजे के पौधे वजनी 387 किलो 620 ग्राम जप्त किया गया। आरोपी को गिरफतार कर उसके विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध किया गया।


 गांजे की अवैध खेती करने वाले आरोपी को भेजा जेल न्यालय माननीय विशेष न्यायायल महोदय बड़वानी श्री दिनेशचन्द्र थपलियाल सा. द्वारा अपने आदेश में गांजे के पौधे की खेती करने के आरोप मे आरोपी वेपारिया पिता पांड्या उम्र 40 साल निवासी सुखपुरी थाना सिलावद, जिला बड़वानी को धारा 8,20 एन.डी.पी.एस. एक्ट के तहत जेल भेजा गया। 


अभियोजन मीडिया प्रभारी कीर्ति चौहान ने बताया कि घटना दिनांक 11.10.2020 को थाना सिलावद पर पदस्थ पुलिस अधिकारी को मुखबीर से सूचना मिली कि आरोपी वेपारिया के खेत में गांजे के अवैध पौधे उगाये जा रहे है मुखबीर की सूचना पर विश्वास कर राहगीर पंचान व हमराही आरक्षकों को मुखबीर की सुचना से अवगत कराया एवं हमराह लेकर मुखबिर द्वारा बताये गये स्थान आरोपी वेपारिया के खेत पर पहुचे आरोपी के खेत में तलाशी लेने पर फसल के बीच बीच में गांजे के हरे पौधे पाये गये। आरोपी के खेत से 119 नग हरे गांजे के पौधे वजनी 223 किलो 600 ग्राम जप्त किया गया। आरोपी को गिरफतार कर उसके विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध किया गया।


        


                                                


Popular posts
कोरोना के मरीजों की संख्या में आश्चर्यजनक वृद्धि होने से एक और जहां शहर में दहशत , वहीं दूसरी ओर प्रशासन की कार्यप्रणाली भी संदेह के घेरे में है
Image
खुद डूब गया पर डूबने से बचा गया उज्जैन का नाम
Image
श्री तिरूपति बालाजी, श्री सोमनाथजी व मदुरई स्थित मीनाक्षी देवीजी मंदिर का भी अध्ययन करने उज्जैन से दल गया,,, लौटकर बनाएगा श्री महाकालेश्वर मंदिर का प्लान
Image
बरकतउल्ला विवि कार्य परिषद का निर्णय : संविदा पद से डॉ आशा शुक्ला सेवानिवृत्त कुलपति पद पर नियुक्ति मामले में राजभवन को किसने धोखे में रखा
Image
आज सिर्फ 26 जांच,2 पॉजिटिव
Image