छोरियां छोरों से कम नहीं होतीं’ के वर्ल्ड टेलीविजन प्रीमियर के साथ ज़ी अनमोल सिनेमा लाया है एक प्रेरणादायक और मनोरंजक कहानी



चूल्हे
चौके से बढ़कर होती हैं छोरियां... इसी संदेश के साथ ज़ी अनमोल सिनेमा आपके लिए लेकर आया है 'छोरियां छोरों से कम नहीं होतीं' का वर्ल्ड टेलीविजन प्रीमियर, जिसमें हरियाणा की एक प्रेरणादायक कहानी है। अपने नए साल की शुरुआत कीजिए एक यंग लड़की के हौसले की कहानी के साथ, जो अपने खुद के पिता के विरोध साथ-साथ तमाम मुश्किलों का सामना करते हुए अपने सपने पूरे करती है और यह साबित करती है कि वो भी अपने परिवार का सहारा बन सकती है। वो एक आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए डटकर आगे बढ़ती है। वो ना सिर्फ अपने परिवार को गर्व कराती है, बल्कि अपने कस्बे की दूसरी लड़कियों के लिए भी एक मिसाल बनकर उभरती है।


सतीश कौशिक, रश्मि सोमवंशी और अनिरुद्ध दवे की बेहतरीन परफॉर्मेंस वाली फिल्म 'छोरियां छोरों से कम नहीं होतीं' का निर्देशन राजेश बब्बर ने किया है। तो आप भी ज़ी अनमोल सिनेमा पर ट्यून इन कीजिए और रविवार 3 जनवरी को दोपहर 12 बजे, छोरियां छोरों से कम नहीं होतीं की यह प्रेरणादायक कहानी जरूर देखिए।


वो हरियाणा के एक छोटे-से शहर में बड़ी हुई है, जहां लोग रूढ़िवादी सोच रखते हैं। वो एक अच्छी स्टूडेंट और एक सक्रिय खिलाड़ी है, जो अपने पिता को यह साबित करने के लिए बहुत कोशिश करती है कि वो भी किसी लड़के से कम नहीं है। वो अच्छी शिक्षा हासिल करने के लिए संघर्ष करती है और एक दिन आईपीएस ऑफिसर बनकर यह साबित करती है कि एक लड़की हर काम करने में सक्षम होती है। छोरियां छोरों से कम नहीं होतीं एक दमदार कहानी वाली शानदार फैमिली एंटरटेनर है, जिसमें दिखाया गया है कि एक लड़की के जीवन का उद्देश्य भी घर के कामकाज से ऊपर होता है।


तो आप भी देखने के लिए तैयार हो जाइए 'छोरियां छोरों से कम नहीं होतीं' का वर्ल्ड टेलीविजन प्रीमियर, 3 जनवरी को दोपहर 12 बजे, सिर्फ ज़ी अनमोल सिनेमा पर।