उज्जैन मैं कोरोना ब्लास्ट, एक मौत के साथ आज 83 पॉजीटिव,,,, अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा,,,,

 उज्जैन। आज शहर में कोरोना कोरोना ब्लास्ट हुआ है ,जारी हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक आज पॉजिटिव आने वालों की संख्या,,83,, है। यह पिछले 1 वर्ष में पॉजिटिव आने वालों की संख्या में सबसे ज्यादा है, पिछले रिकॉर्ड के मुताबिक सर्वाधिक 61 पॉजिटिव मरीज 20 मई को आए थे, मई में ही 19 मई को 58 पॉजिटिव मरीज सामने आए थे।

मार्च 2021 में कोरोना के रिकॉर्ड तोड़ मरीज सामने आने के बाद शहर में हड़कंप मचा हुआ है ।पिछले रिकॉर्ड की बात करें तो 2020 में मार्च में 6, अप्रैल में 135, मई में 535, जून में 183, जुलाई में 328, अगस्त में 603, सितंबर में 1170, अक्टूबर में 764, नवंबर में 240, दिसंबर में 440, जनवरी 

 2021 में 669, फरवरी 2021 में 135 और 24 मार्च 2021 तक 521 पॉजिटिव मामले सामने आने के बाद पिछले 12 महीनों का रिकॉर्ड( सितंबर 2020 4 अक्टूबर 2020 को छोड़कर ) टूटने के आसार मार्च में दिखाई दे रहे हैं।


इधर कोरोना के बढ़ते प्रकोप को लेकर अब शासकीय विभागों में भी चिंता बढ़ गई है, पिछले 1 हफ्ते से लगातार शासकीय विभागों में कार्यरत कर्मचारी और अधिकारी कोरोना पॉजिटिव आ रहे हैं, 2 दिन पहले स्वास्थ्य विभाग के ज्वाइंट डायरेक्टर और पुलिस विभाग के एडिशनल एसपी पॉजिटिव आए थे, यह दोनों विभाग ही जनता को सचेत कर रहे हैं, जो विभाग जनता को सचेत कर रहा है उसके वरिष्ठ अधिकारी पॉजिटिव आने का सीधा अर्थ यह है कि कोरोना किसी को भी छोड़ने को तैयार नहीं है। 24 मार्च को देर रात जारी बुलेटिन के अनुसार ही न्याय विभाग यानी कोर्ट ,वन विभाग ,जीएसटी विभाग, भारतीय जीवन बीमा निगम ,बैंक ,संभाग आयुक्त कार्यालय, जिला अस्पताल, शिक्षा विभाग और p.h.e. में कार्यरत कर्मचारी: अधिकारी पॉजिटिव आए हैं ,भारतीय जीवन बीमा निगम के तीन एजेंट  पॉजिटिव आए हैं,  बैंक में कार्यरत 3 कर्मचारी भी पॉजिटिव आए हैं, जिससे स्पष्ट हो जाता है कि शहर के लगभग सभी शासकीय विभागों में कोरोना पॉजिटिव आने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। मध्य प्रदेश गृह निर्माण मंडल उज्जैन कार्यालय में भी 3 कर्मचारियों के पॉजिटिव आने की सूचना है इनमें से एक अधिकारी जो कोरोना का इलाज करवाने भोपाल में भर्ती था, उसकी आज दुखद मृत्यु हो गई है, मौत के बाद गृह निर्माण मंडल के कर्मचारियों में शौक व्याप्त है।



Popular posts
सेक्स वर्कर्स को गिरफ्तार या परेशान न करे,,,अपनी मर्जी से प्रॉस्टीट्यूट बनना अवैध नहीं है,,वेश्यालय चलाना गैरकानूनी है ,,,, सुप्रीम कोर्ट
Image
जिस रेल लाइन को कांग्रेस सरकार में 1975 में उखाड़ फेंका अब भाजपा सरकार ने वहां नई रेल लाइन का काम शुरू किया
Image
जो कभी सिंधिया घराने का महल था अब उज्जैन में वहा हेरिटेज होटल बनाने की योजना है।
Image
प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायतों के चुनाव घोषणा,पंचायत क्षेत्र के लिए आचार संहिता आज से लागू
Image
अभिनेत्रिया जिन्होंने पर्दे पर वैश्या का किरदार निभाने के लिए अपने रोल में जान फूंक दी
Image