कोरोना के बढ़ते मरीजों के लिए अब रतलाम मेडिकल कॉलेज, आरडी गार्डी, अमलतास एवं अन्य चिकित्सालयों में डेढ़ से दो हजार बेड आरक्षित किये जायेंगे

 *संभागीय कमिश्नर कोरोना संक्रमण के नियंत्रण में सक्रिय भूमिका निभाएँ -मुख्यमंत्री श्री चौहान, बचाव एवं नियंत्रण के बेहतर प्रबंध सुनिश्चित करें, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में कोरोना स्थिति की समीक्षा की*


उज्जैन 31 मार्च। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के सभी कमिश्नर से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा कर कोरोना की स्थिति की विस्तार से जानकारी प्राप्त की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संभाग स्तर पर रोगियों के लिए बेड संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश के करीब एक तिहाई जिलों में संक्रमण ज्यादा होने के नाते उन जिलों के संभागीय मुख्यालय पर जरूरी उपचार प्रबंध सुनिश्चित किया जाए। इन जिलों में संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए संभागीय आयुक्त आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित करें। इसके साथ ही वैक्सीनेशन की गति भी तीव्र की जाए। वीडियो कॉन्फ्रेंस में बताया गया कि प्रदेश में 29 मार्च तक 32 लाख 35 हजार नागरिक वैक्सीन डोस लगवा चुके हैं।


उज्जैन संभाग में डेढ़ से दो हजार बेड आरक्षित होंगे


उज्जैन संभाग कमिश्नर श्री संदीप यादव ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि उज्जैन एवं रतलाम में कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं। प्रतिदिन 70 से 80 केस इन जिलों में आये हैं। कोरोना के बढ़ते मरीजों को देखते हुए रतलाम मेडिकल कॉलेज, आरडी गार्डी, अमलतास एवं अन्य चिकित्सालयों में डेढ़ से दो हजार बेड आरक्षित किये जायेंगे


। कोरोना की संख्या तेजी से बढ़ रही है, लेकिन अभी भी मृत्यु दर केवल एक प्रतिशत है। एक माह में कोरोना से 18 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है। आम लोगों की धारणा है कि घरों की बजाय अस्पताल में इलाज करायें और इसके लिये हम अस्पतालों को पूरी तरह से तैयार कर रहे हैं। ऐसा प्रयास किया जा रहा है कि प्रायवेट अस्पताल में भी पैकेज के तौर पर कोरोना मरीज का इलाज किया जा सके।


प्रभारी अधिकारी दौरा करें


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि अपने प्रभार के जिलों का भ्रमण कर कोरोना के उपचार एवं अन्य व्यवस्थाओं को देखें और आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित करें। रोगियों की जाँच] उनके उपचार और आइसोलेशन के प्रबंध, जन-जागरूकता और वैक्सीनेशन कार्यों की समीक्षा भी की जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश स्तर पर प्रतिदिन कोरोना की जिलेवार समीक्षा की जा रही है। इसी तरह प्रभारी अधिकारी अपने जिले में कोरोना के नियंत्रण के लिए आवश्यक सभी व्यवस्थाओं  को देखते हुए इनके क्रियान्वयन का भी निरंतर अनुश्रवण करें।


वैक्सीनेशन में तेजी लाने के निर्देश


          मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि प्रदेश में वैक्सीन के पर्याप्त डोज उपलब्ध हैं, इसलिये वैक्सीनेशन में तेजी लाई जाए। बताया गया कि अब तक 32 लाख 35 हजार नागरिकों को वैक्सीन लग चुकी है। गत 27 मार्च को 1.1 लाख लोगों को वैक्सीन लगी। इसके पहले 20 मार्च को सर्वाधिक 3 लाख 57 हजार 500 लोगों को वैक्सीन लगी थी। आने वाले तीन दिवस में प्रदेश के चार लाख नागरिकों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य है। हेल्थ वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स, प्रियारिटी ग्रुप के लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। प्रदेश में 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों की अनुमानित जनसंख्या 71 लाख है। इनमें से 16 लाख 83 हजार अर्थात इस वर्ग के 24 प्रतिशत नागरिकों को वैक्सीन का प्रथम डोस लग चुका है। इसी तरह विभिन्न व्याधियों से ग्रस्त 45 से 59 वर्ष की आयु के करीब ढाई लाख लोगों को वैक्सीन का प्रथम डोस लग चुका है।


         वीडियो कॉन्फ्रेंस में भोपाल से चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान, आयुक्त स्वास्थ्य डॉ. संजय गोयल, जनसम्पर्क आयुक्त डॉ.सुदाम खाडे शामिल हुए। वीडियो कॉन्‍फ्रेंस द्वारा स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी भी बैठक से जुड़े।



Popular posts
Corona breaking,,,,,, पूरा परिवार आ रहा है पॉजिटिव,,,,,, पूर्व विधायक सहित 12 साल की मासूम चपेट में आई,,,,,, होलसेल दवा व्यापारी का पूरा परिवार संक्रमित,,,,, ऋषि नगर, विवेकानंद कॉलोनी और नानाखेड़ा हॉटस्पॉट बने,,,,,, पॉजिटिव आने वालों की चौका देने वाली 23% दर,,,,,, और भी बहुत कुछ,,,,,
Image
उज्जैन के चरक में भर्ती लड़की का वीडियो वायरल हुआ
Image
शादी वैवाहिक कार्यक्रम में अनुमति के साथ अधिकतम 50 व्यक्ति सम्मिलित हो सकेंगे
Image
5 दिन में 5 फोटोग्राफर मौत के मुंह में समा गए,,,,,
Image
राजनीति और धर्म के क्षेत्र की दो हस्तियों का दुखद निधन,,,,, कोरोना के कहर से कब उबरेगा शहर
Image