पिछले वर्ष अप्रैल में सिर्फ 135 पॉजिटिव आए जबकि इस वर्ष 2 दिन में ही 174 केस,,, पॉजिटिव आने वालों में पत्रकार, नगर निगम कर्मी शिक्षक ,वकील शामिल

 उज्जैन। जिले में अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़कर 2 अप्रैल को 89 केस कोरोना पॉजिटिव के सामने आए यह पिछले 1 वर्ष में कोरोना की शुरुआत से लेकर अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है ।

2 अप्रैल को पॉजिटिव आने वालों में शासकीय कर्मचारी, पीएचपी कर्मचारी, प्रिंटिंग प्रेस मालिक, हेल्थ वर्कर, प्रॉपर्टी ब्रोकर, शिक्षक ,वकील, विक्रम विश्वविद्यालय का कर्मचारी ,गार्ड, बिल्डिंग मटेरियल सप्लायर ,पत्रकार, शिक्षक, नगर पालिक निगम कर्मी, विद्युत मंडल कर्मी, मोबाइल शॉप कीपर ,बीमा एजेंट, प्रोफेसर, स्टेशनरी की दुकान चलाने वाला शामिल है।

 आंकड़ों पर नजर डालें तो यह बेहद डरावने हैं, अप्रैल 2020 में 30 दिन में 135 पॉजिटिव केस सामने आए थे, फरवरी 2021 में भी 135 केस सामने आए थे, लेकिन अप्रैल 2021 ने अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़कर सिर्फ 2 दिन में ही 174 पॉजिटिव केस सामने आए हैं।


मध्य प्रदेश के बात करे तो यहां कोरोना के रफ्तार 10 . 5 प्रतिशत है, भोपाल में यह रफ्तार दुगनी हो कर 20% है, इंदौर में भी 2 अप्रैल को सबसे ज्यादा 708 केस सामने आए, जिस तरह पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा दिन-ब-दिन बढ़ रहा है उससे लगता है कि नाइट कर्फ्यू और 1 दिन का लॉक डाउन असरकारक नहीं है।


Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
स्थानकवासी समाज के समाजसेवी सरदारमल राठौर का निधन
नवनियुक्त मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को उज्जैन तथा अन्य जिलों से आए जनप्रतिनिधियों कार्यकर्ताओं और परिचितों ने लालघाटी स्थित वीआईपी विश्रामगृह पहुंचकर बधाई और शुभकामनाएं दी
Image