कोरोना का कहर अब युवा डॉक्टरों पर,,,,, पिछले वर्ष अप्रैल में एक महा मेंआने वाले मरीजों की तुलना में इस वर्ष 15 दिन में 800% ज्यादा पॉजिटिव सामने आए,,,,,,, हर वर्ग चपेट में आया

 उज्जैन । कोरोना का प्रकोप पूरे शहर को अपनी गिरफ्त में ले रहा है, जिस तरह कोरोना के मरीज बढ़ रहे हैं और एक के बाद एक मौत की खबरें आ रही है ,उससे पूरा शहर भयभीत है। कोरोना अब धीरे धीरे युवा डॉक्टरों को भी अपनी चपेट में ले रहा है, पिछले 3 दिन में आर एम ओ हॉस्टल में रहने वाले अनेक युवा डॉक्टरों को कोरोना चपेट में ले चुका है कल देर रात जारी बुलेटिन के मुताबिक भी 3 युवा डॉक्टर तीनों ही युवतिया है, कोरोना की शिकार हुई है, यह युवा डॉक्टर हॉस्टल में रहकर पढ़ाई कर रहे थे, आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज का एक युवा डॉक्टर भी कोरोना की चपेट में आया है। पिछले दिनों में अनेक युवा डॉक्टर कोरोना की चपेट में आए हैं। कोरोना की चपेट में आने वाले अन्य  में विनोद मिलके चाल में रहने वाला निगम कर्मी, प्राइवेट स्कूल में पढ़ाने वाली प्रिंसिपल जो कि लक्ष्मी नगर में रहती है, अंजूश्री कॉलोनी में रहने वाला ट्रैफिक पुलिस का जवान, दीनानगर में रहने वाला हेल्थ वर्कर ,सेठी नगर में रहने वाला शिक्षक, नागदा में रहने वाली 25 वर्षीय युवती जो हेल्थ वर्कर है, गोवर्धन धाम नगर में रहने वाला महाकाल मंदिर का कर्मचारी, महाकाल वाणिज्य केंद्र में रहने वाली 45 वर्षीय महिला जोकि ब्यूटीक चलाती है, गणेश टेकरी पर रहने वाला पंडित ,हाटकेश्वर धाम में रहने वाला हेल्थ वर्कर, मंगल सिटी में रहने वाला 38 वर्षीय प्रोफेसर ,गोपालपुरा में रहने वाला 33 वर्षीय रेलवे कर्मी, महालक्ष्मी बिहार में रहने वाला 39 वर्षीय कोर्ट कर्मी, महेश नगर में रहने वाला 40 वर्षीय एलआईसी एजेंट, बापू नगर में रहने वाला बैंक कर्मी, आजाद नगर में रहने वाला 32 वर्ष की बैंक कर्मी ,महाकाल वाणिज्य केंद्र में रहने वाली 25 वर्षीय युवती जो की  बैंक कर्मी है ,शिवालय परिसर में रहने वाला 7 साल का मासूम, धूल महू गांव में रहने वाली 7 वर्ष की एक मासूम बालिका, दशहरा मैदान में रहने वाले एक प्रसिद्ध चिकित्सक का युवा पुत्र, अलखधाम नगर मैं रहने वाले एक प्रसिद्ध चिकित्सक का युवा सुपुत्र ,कालिदास मांटेसरी स्कूल में पढ़ाने वाली दंपत्ति, मंगल अपार्टमेंट ऋषि नगर में रहने वाली दंपत्ति के अलावा अनेक परिवारों में एक से अनेक सदस्य पॉजिटिव आए हैं , निजातपुरा में रहने वाले अग्रवाल परिवार के अनेक सदस्य कोरोना पॉजिटिव आए हैं।हमेशा की तरह ऋषि नगर में फिर से 15 पॉजिटिव केस सामने आए हैं महानंदा नगर में भी 8 से अधिक पॉजिटिव केस सामने आए हैं।

इधर आंकड़ों पर नजर डाले तो अप्रैल 2021 में 1 अप्रैल से लेकर 15 अप्रैल तक, 15 दिन में 2473 पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं ,इसके अलावा अप्रैल के ही 15 दिनों में 13 मौत हो चुकी है। जबकि वर्ष 2020 में अप्रैल में मात्र 135 पॉजिटिव सामने आए थे, यदि एनालिसिस करे तो 2020 अप्रैल में 1 महीने में जितने पॉजिटिव आए उसके 8 गुना पॉजिटिव अप्रैल 2021 में 15 दिन में ही आ गए अर्थात 800% अधिक केस 15 दिन में ही आ गए। पिछले 1 वर्ष की समीक्षा करने पर भी अप्रैल के 15 दिनों का आंकड़ा हैरान कर देने वाला है। पिछले वर्ष सितंबर 2020 में सर्वाधिक 1170 मामले पॉजिटिव आए थे 1 महीने का यह सबसे बड़ा आंकड़ा था ।सबसे कम  आने वाले  पॉजिटिव मरीज मार्च 2020 में और मार्च 2021 में क्रमशः6और 135 थे । 2020 का पिक सितंबर माना जाता है लेकिन अप्रैल 2021 में 15 दिनों में,सितंबर के पूरे महीने से भी दुगने लगभग 220% ज्यादा मामले सामने आने के बाद शहर में हड़कंप जैसी स्थिति है ।इधर अस्पतालों में ऑक्सीजन को लेकर भयंकर किल्लत के समाचार सामने आते रहे, हालांकि प्रशासन इन समाचारों की पुष्टि करने से बचता रहा, लेकिन हकीकत क्या है यह अस्पतालों में भर्ती पॉजिटिव मरीज और उसके परिजन ही बयां कर सकते हैं।


Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
स्थानकवासी समाज के समाजसेवी सरदारमल राठौर का निधन
नवनियुक्त मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को उज्जैन तथा अन्य जिलों से आए जनप्रतिनिधियों कार्यकर्ताओं और परिचितों ने लालघाटी स्थित वीआईपी विश्रामगृह पहुंचकर बधाई और शुभकामनाएं दी
Image