राजनीति और धर्म के क्षेत्र की दो हस्तियों का दुखद निधन,,,,, कोरोना के कहर से कब उबरेगा शहर

 उज्जैन। शहर की दो हस्तियां आज हमारे बीच कोरोना के संग्राम के चलते नहीं रही अचानक इन हस्तियों के चले जाने से राजनेताओं और चार धाम मंदिर के भक्तों में मायूसी है।आज हमारे चार धाम मंदिर के संत स्वामी अमृतानंद जी गिरि जी महाराज ब्रह्मलीन हो गए, 12 अप्रैल को उन्हें कोरोना हुआ था जिसका इलाज चल रहा था इसी बीच आज उनकी मृत्यु की खबर आ गई। इसी मंदिर के महामंडलेश्वर भी कोरोना पीड़ित होकर अपना इलाज करवा रहे हैं। इधर

संघ समर्पित स्व श्री रामचन्द्र जी कोटवानी के सुपुत्र, पूर्व विधायक  शिवा कोटवानी के अग्रज, स्वामी विवेकानंद संस्था के संरक्षक, गोपी गार्डन के मालिक श्री मनोहर जी कोटवानी भी आज तेजनकर अस्पताल में कोविड के कारण स्वर्गवास हो गया है। बताया जाता है कि मनोहर कोटवानी का इलाज पहले अमलतास अस्पताल देवास में किया जा रहा था लेकिन इलाज से संतुष्ट न होने के कारण उन्हें बमुश्किल तेजनकर अस्पताल में बेड उपलब्ध हो पाया था, कोटवानी परिवार के 4 से अधिक सदस्य अभी भी कोरोना पीड़ित होकर अस्पताल में इलाज करवा रहे हैं।अचानक धर्म क्षेत्र में काम करने वाले और राजनीति के क्षेत्र में पैठ रखने वाले दो हस्तियों का इस तरह चले जाने से शहर में शोक है।





Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
नवनियुक्त मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को उज्जैन तथा अन्य जिलों से आए जनप्रतिनिधियों कार्यकर्ताओं और परिचितों ने लालघाटी स्थित वीआईपी विश्रामगृह पहुंचकर बधाई और शुभकामनाएं दी
Image