कोरोना के इलाज के दौरान विक्रम के विभागाध्यक्ष की मौत

 विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन के इतिहास विभाग के आचार्य एवं विभागाध्यक्ष और विद्यार्थी कल्याण संकाय के अध्यक्ष डॉ राम कुमार अहिरवार का गुरुवार शाम को असामयिक निधन हो गया. वे कुछ दिनों से इंदौर के एक निजी हॉस्पिटल में कोरोना संक्रमण का उपचार करवा रहे थे. 52 वर्षीय अहिरवार अपने पीछे दो पुत्री और पत्नी को छोड़ गए हैं. उनका अंतिम संस्कार संभवत: 09 अप्रैल को इंदौर में होगा. अहिरवार तो अब वापस नहीं आ सकते लेकिन इस तरह जो मौतें उज्जैन में हो रही है वह यह संदेश जरूर दे रही है कि कोरोना से स्वयं को बचाना होगा क्योंकि वैश्विक महामारी के इस दौर में शासन और प्रशासन के इंतजाम इतने नहीं है कि कॉविड 19 से ग्रसित हर एक मरीज का आसानी से इलाज हो जाए शहर में  अस्पतालों में बेडआसानी से उपलब्ध नहीं है, डॉक्टरों की संख्या में भी कमी है,।


Popular posts
कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव का निधन
Image
श्री महाकालेश्वर कॉरिडोर का अद्भुत नजारा
Image
ब्रेकिंग,,,,,,,,नयापुरा के जैन परिवार पर आफत का पहाड़ टूटा, सलूजा नर्सिंग होम में भर्ती बहू से परिवार में संक्रमण आने की आशंका जताई
शहर के नौनिहाल आज पर फोकस कर नित नए कीर्तिमन रच रहे हैं, हाल ही में शहर में आयोजित हुई माइंड पॉवर अबेकस की राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में बच्चों ने इतिहास रच दिया
Image
उज्जैन में परिवार में फेल रहा है संक्रमण, बड़ी संख्या में पति पत्नी और बाप बेटे संक्रमित,,,, फेसबुक पर जारी की गई एक पोस्ट ने रेंगटे खड़े कर दिए
Image