नाम राज श्री,,, उम्र 23 वर्ष,,,,,, काम नर्स,,,,, लेकिन मरीजों की जान से खेलना,,,,,,, अब पुलिस गिरफ्त में


🔺 *उज्जैन पुलिस की रैमडेसीवर इन्जेक्शन की कालाबाजारी को लेकर बड़ी कार्यवाही*।

🔺 *उज्जैन सायबर सेल व थाना कोतवाली की संयुक्त कार्यवाही*। 

🔺 *शासकीय चरक भवन अस्पताल की 02 महिला कर्मचारी सहित 03 आरोपी गिरफ्तार*।

🔺 *आरोपियों के कब्जे से रैमडेसीवर इंजेक्शन सहित नकदी बरामद की गई*।

🔺 *आरोपियों से 02 रेमडेसीवर, 03 एंटीबायोटिक इंजेक्शन सहीत कुल 05 इंजेक्शन बरामद किए गए*।


🟣 *घटना का विवरण*

 पुलिस अधीक्षक उज्जैन *श्री सत्येन्द्र कुमार शुक्ल* के निर्देशन में अतिरिक्त  पुलिस अधीक्षक (शहर) *श्री अमरेन्द्र सिंह* के मार्गदर्शन में कोविड महामारी के दौरान लगातार रैमडेसियर इंजेक्शन की कालाबाजारी को रोकने के लिये निर्देशित किया गया था । उक्त निर्देशो के परिपालन में आज दिनांक 06.05.2021 को सायबर सेल प्रभारी *निरी. विक्रमसिंह चौहान* की टीम को मुखबीर से सुचना प्राप्त हुई की कोरोना महामारी मे पेशेंट को लगने वाले रेमडेसिवर इंजेक्शन ऊंचे दामों पर बेचने के लिये एक व्यक्ति ग्राहक हुँढ रहा है। जिसे कोविङ पेशेंट की जान को खतरा उत्पन्न हो रहा है, उक्त सूचना पर सीएसपी कोतवाली *सुश्री पल्लवी शुक्ला* के नेतृत्व में थाना कोतवाली *निरी. शंकर सिंह चौहान* एवं सायबर सेल प्रभारी विक्रमसिंह चौहान को कार्यवाही करने के लिये बताया गया जो सुचना की तस्दीक करते हुये एक व्यक्ति मुखबीर व्दारा बताये गये हुलिये का चरक अस्पताल के बाहर रेमडेसिवर इंजेक्शन को ऊंचे दामों पर बेचने के लिये ग्राहक हुँढ रहा है। उक्त हुलिये के व्यक्ति को अभिरक्षा में लेकर हिकमतअमली से पूछताछ की गई जिस पर उसके व्दारा रेमडेसिवर इंजेक्शन को ऊंचे दाम में ग्राहक तलाशना स्वीकार किया। जिसके कब्जे से एक कोविड़ 19 महामारी में लगने वाला रेमडेसिवर इंजेक्शन एवं एक एंटीबायोटिक इंजेक्शन मेरोपेमेन इंजेक्शन बरामद किया गया। पूछताछ करने पर बताया गया कि यह इंजेक्शन चरक अस्पताल में काम करने वाली राजश्री मेडम एवं एकता मेडम से खरीदे है, अभी तक इनके पास से 05 रेमडेसिवर इंजेक्शन और कुछ एंटीबायोटिक इंजेक्शन खरीदे है | उक्त आरोपी की गिरफ्तारी के उपरांत मेमोरेडम में बताये अनुसार चरक अस्पताल में कार्यरत स्टाफ नर्स राजश्री मालविय के कब्जे से एक रेमडेसिवर इंजेक्शन व एकता फैलोदिया के कब्जे से एडीबायोटिक मेरोपेमेन दो इंजेक्शन बरामद किये गये। दोनों से इंजेक्शन लाने के संबंध में पूछताछ करने पर बताया कि मरीज को लगाने के लिये दो इंजेक्शन मिलते थे, जिसमें से एक इंजेक्शन को लगाकर दूसरा  इंजेक्शन आरोपियों द्वारा बचा लिया जाता है तथा इसी इंजेक्शन को बाद में 20,000 रुपये में मयुर को बेच देते थे।


🟣 *आरोपीयो के नाम*

01. मयुर पिता कालुराम उम्र 24 साल नि. कालियादेह महल थाना भैरुगढ़ जिला उज्जैन।

 02. राजश्री पिता संतोष उम 23 साल नि, नागेश्वर धाम कोलोनी थाना चिमनगंज जिला उज्जैन

03. एकता पति लखन कैलोदिया उम्र 26 साल नि. निमनवासा थाना पंवासा जिला उज्जैन।


🟣 *जप्त  सामग्री*

01. रेमेडेसिवर इंजेक्शन 02 नग

02.5 मेरोपेमेन एंटाबॉयोटिक इंजेक्शन 03 नग

03. नकदी 60,000 रुपये


*सराहनीय योगदान*

 नगर पुलिस अधीक्षक अनुभाग कोतवाली सुश्री पल्लवी शुक्ला, थाना प्रभारी कोतवाली निरी. शंकरसिंह चौहान, उनि. सुरेश कलेश, प्र.आर. सर्वेन्द्र राठौर ,प्र.आर. दिनेश चौहान, आर. जितेन्द्र पटेल, आर समीर खान . म. आर. रेणुका कुमावत , उज्जैन सायबर सेल प्रभारी निरी. विक्रम सिंह चौहान , प्रआर सोमेन्द्र दुबे, प्रवीण सिंह चौहान कन्हैया शर्मा, राजपाल सिंह, आर. कुलदीप भारव्दाज, जितेन्द्र पाटीदार, म.आर. निकिता रावत सैनिक सुनिल ठाकुर की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Popular posts
122 साल पुराने उज्जैन के नक्शे को आधार बनाकर,,, तालाबों की जमीन हड़पने वालों पर शिकंजा कसेगा,,, उज्जैन जिलाधीश के निर्देश से जमीन पर कब्जा करने वालों में हड़कंप मचा
Image
उज्जैन कलेक्टर के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि,,,130 करोड़ रुपये कीमत की 3 हेक्टेयर जमीन शासकीय हुई,,,,पूर्णिमा सिंघी, प्रमोद चौबे और श्री राम हंस यह है तीन आधार स्तंभ जिनकी मेहनत और सच्चाई रंग लाई
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
उज्जैन के विश्वप्रसिद्ध महाकाल मंदिर परिसर में बिना अनुमति के युवती द्वारा वीडियो बनाकर वायरल किए जाने पर प्रकरण पंजीबद्ध
Image