कोरोना से हुई मौतों को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और गृहमंत्री आमने सामने,कमलनाथ का आरोप एक लाख से ज्यादा का अंतिम संस्कार कॉविड प्रोटोकॉल के तहत हुआ,,,,,

 



मध्यप्रदेश में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ और प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र कोरोना से हुई मौतों के आंकड़ों को लेकर आपस में उलझ गए हैं। दरअसल पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आरोप लगाया कि मार्च-अप्रैल में श्मशान और कब्रिस्तान में 127 530 शवों में से 102002 दो शवों का कोविड-19 के प्रोटोकाल के तहत अंतिम संस्कार किया गया। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार कोविड-19 से हुई मौतों के आंकड़ों को छुपा रही है। उनका बयान मीडिया में आने के बाद मध्य प्रदेश के गृहमंत्री सामने आए और उन्होंने कहां की कमलनाथ को लाशें गिनने की पुरानी आदत है ।उन्होंने यह भी कहा कि मध्यप्रदेश में कोरोना से एक लाख से ज्यादा मौतें होने का प्रमाण यदि कमलनाथ के पास हो तो वह उन्हें सौंप दें, अन्यथा इस्तीफा दे। प्रमाण देने की स्थिति में गृह मंत्री ने स्वयं भी  इस्तीफा देने की बात कही। उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश में भय का वातावरण बनाना चाह रहे हैं, उन्होंने राज्यपाल से कमलनाथ राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की मांग भी की है। उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश में कोरोना से मरने वालों को ₹100000 देने की घोषणा के बाद कोरोना से मरने वालों की संख्या को लेकर विपक्ष सरकार पर मौत के आंकड़े छुपाने का आरोप लगा रही है।

Popular posts
उज्जैन कलेक्टर के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि,,,130 करोड़ रुपये कीमत की 3 हेक्टेयर जमीन शासकीय हुई,,,,पूर्णिमा सिंघी, प्रमोद चौबे और श्री राम हंस यह है तीन आधार स्तंभ जिनकी मेहनत और सच्चाई रंग लाई
Image
122 साल पुराने उज्जैन के नक्शे को आधार बनाकर,,, तालाबों की जमीन हड़पने वालों पर शिकंजा कसेगा,,, उज्जैन जिलाधीश के निर्देश से जमीन पर कब्जा करने वालों में हड़कंप मचा
Image
उज्जैन के विश्वप्रसिद्ध महाकाल मंदिर परिसर में बिना अनुमति के युवती द्वारा वीडियो बनाकर वायरल किए जाने पर प्रकरण पंजीबद्ध
Image
रावण दहन भी अब ऑनलाइन
Image
अपराधियों के खिलाफ उज्जैन पुलिस ने जनता से मदद मांगी,,,,जनता से शांतिदूत हेल्पलाइन से जुड़ने की अपील ,,अपराधिक गतिविधियों के संबंध में दे सकते हैं,,, सूचना सूचनाकर्ता का नाम रखा जावेगा गोपनीय
Image