जिले में आज से ही लेफ्ट राइट के नियम का पालन करते हुए शाम 7:00 बजे तक खुली रहेगी दुकाने ,,,,, धार्मिक स्थल नहीं खुलेंगे,,,,,ब्लैक फगस के 89 मरीज हैं जिनका उपचार चल रहा है,,,,,,,कलेक्टर ने कहा कि अब आगे से कोरोना के जितने भी प्रकरण पॉजिटिव आएंगे उन सभी को होम क्वॉरेंटाइन के स्थान पर कोविड केयर सेंटर में रखा जाएगा

 

अन्य व्यवस्थाएं पूर्ववत जारी रहेगी 

मंडी में किसानों को फसल बेचने की सुविधा प्रदान की जाएगी

 क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में लिए गए निर्णय 


उज्जैन 7 जून ।जिले में आज 7 जून से ही सभी दुकाने बारी बारी से एक दिन लेफ्ट व एक दिन राइट के नियम का पालन करते हुए शाम 7:00 बजे तक खुली रह सकेंगी। मंडी में किसानों को अपनी फसल विक्रय करने के लिए अब एसएमएस का इंतजार नहीं करना पड़ेगा वह सीधे जाकर मंडी में अपनी फसल बेच सकेंगे । यह निर्णय आज जिला स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट समिति की बैठक में लिए गए । उज्जैन जिले के कोरोना प्रभारी एवं उच्च शिक्षा मंत्री डॉ मोहन यादव की अध्यक्षता में उक्त बैठक आयोजित की गई । 

बैठक में सांसद श्री अनिल फिरोजिया, जन अभियान परिषद के उपाध्यक्ष श्री विभाष उपाध्याय कलेक्टर श्री आशीष सिंह , पुलिस अधीक्षक श्री सत्येंद्र कुमार शुक्ल ,नगर निगम आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल ,जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अंकित अस्थाना अपर कलेक्टर श्री एसएस रावत ,श्री विवेक जोशी एवं श्री बहादुर सिंह बोरमुंडला मौजूद थे। बैठक में वीडियो कांफ्रेंस के जरिए घटिया विधायक श्री रामलाल मालवीय ,जिले के सभी एसडीएम एवं तहसील के जनप्रतिनिधि गण शामिल हुए ।


      बैठक के प्रारंभ में कलेक्टर श्री आशीष सिंह द्वारा उज्जैन जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति के बारे में ब्यौरा प्रस्तुत किया गया। कलेक्टर ने बताया कि विगत 7 दिनों में उज्जैन जिले में कोरोना की पॉजिटिविटी 0.5 प्रतिशत रह गई है ।। जिले की सभी ग्राम पंचायतें रेड जोन से बाहर आ गई है तथा वर्तमान में जिले में केवल 40 ग्राम पंचायतों में ही संक्रमण है। जिले में वर्तमान में 148 एक्टिव कैसेस हैं। साथ ही उन्होंने बताया कि ब्लैक फगस के 89 मरीज हैं जिनका उपचार चल रहा है ।कलेक्टर ने कहा कि अब आगे से कोरोना के जितने भी प्रकरण पॉजिटिव आएंगे उन सभी को होम क्वॉरेंटाइन के स्थान पर कोविड केयर सेंटर में रखा जाएगा


जिससे संक्रमण उनके परिवारजनों एवं दूसरों में फैलने से रोका जा सके।


      बैठक में कोविड-19 प्रभारी मंत्री डॉ मोहन यादव द्वारा जिले के सभी एसडीएम से वैक्सीनेशन के संबंध में भी चर्चा की गई तथा एसडीएम को कहा गया कि वे वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ाये और आने वाले समय में 44 प्लस लोगों का शत प्रतिशत वैक्सीनेशन करने का लक्ष्य प्राप्त करें । उन्होंने कहा कि इसके लिए आवश्यकता पड़ने पर वैक्सीनेशन सेंटर बढ़ाये जाए । 18 प्लस के व्यक्तियों का वैक्सीनशन करने के लिए ग्रामीण क्षेत्र में नए वैक्सीनेशन सेंटर स्थापित करने के लिए कहा है। डॉ यादव ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में शत-प्रतिशत वैक्सीनशन करवाने वाली ग्राम पंचायतों का व्यापक प्रचार प्रसार किया जाए एवं उन्हें प्रोत्साहन दिया जाए।


    बैठक में सांसद श्री अनिल फिरोजिया ने तहसीलों में बैठे हुए जनप्रतिनिधियों से चर्चा की तथा सभी से आग्रह किया कि वे वैक्सीनेशन को एक अभियान के रूप में संचालित कर शत प्रतिशत वैक्सीनेशन की ओर बढ़े .सांसद ने ग्रामीण क्षेत्र में घर घर जा कर वैक्सीनशन करवाने व भ्रांतियां दूर करने को कहा ।

      जन अभियान परिषद के उपाध्यक्ष श्री विभाष उपाध्याय ने कहा कि' मैं भी कोरोना वॉलिंटियर " योजना के तहत वालंटियर बने लोगों का उपयोग वैक्सीनेशन में ही किया जाएगा तो अच्छे परिणाम सामने आएंगे. साथ ही उन्होंने ग्रामीण स्तर पर स्थापित की गई क्राइसिस मैनेजमेंट समितियों को भी वैक्सीनशन के कार्य में भागीदारी देने का अनुरोध किया। श्री विवेक जोशी ने कहा कि मोबाइल वैक्सीनेशन यूनिट 18 प्लस के लोगों के लिए भी संचालित की जाना चाहिए इसके अच्छे परिणाम प्राप्त होंगे ।उन्होंने ऐसे परिवार जिनके माता-पिता का निधन कोरोनावायरस हुआ है को सहायता देने के संबंध में त्वरित कार्रवाई करने का आग्रह किया । श्री बहादुर सिंह बोर मुंडला ने कहा कि 18 प्लस के लिए ग्रामीण क्षेत्र में वैक्सीनेशन की गति बढ़ाई जाना चाहिए। किसानों को 2 महीने से मंडियां बंद होने के कारण अत्यधिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है इसके लिए मंडियों को भी अनलॉक किया जाना चाहिए। 


      

****

Popular posts
आज 11 जून से ही संपूर्ण बाजार खुलेगा लेफ्ट राइट का नियम तत्काल प्रभाव से समाप्त
Image
पारस जैन और मंत्री डॉ मोहन यादव ने मुख्यमंत्री से कहा की वैवाहिक आयोजनों के लिए वर पक्ष को 100 एवं वधु पक्ष को 100 व्यक्तियों की अनुमति प्रदान की जाए
Image
पटवारियों की दुर्घटना में मौत के बाद एक्सिस बैंक ने उनके नामिनी को दिए 20 20 लाख रुपए, जिलाधीश ने सोपे चेक
Image
चौबीस घंटे पर्दे के पीछे रहकर कर रही है टीम डाटा कलेक्शन का काम*
Image