भाजपा बोली नहीं चाहिए दिग्विजय सिंह की सलाह



इतिहास साक्षी है उज्जैन में जब जब सिंहस्थ आया है उसे सफलता पूर्वक संपन्न करवाने का सौभाग्य भारतीय जनता पार्टी की सरकार को ही प्राप्त हुआ है ,अगर कांग्रेस को कभी ये अवसर प्राप्त होता तो निश्चित रूप से वो सिंहस्थ भृष्टाचार की भेंट चढ़ जाता ! इसलिए बाबा महाकाल ने इस पुनीत कार्य हेतु हमेशा भारतीय जनता पार्टी को ही अवसर प्रदान किया है ये बात भारतीय जनता पार्टी जिलाध्यक्ष श्री विवेक जोशी ने कांग्रेस के वरीष्ठ नेता श्री दिग्गविजय सिंह द्वारा यशस्वी मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को लिखे गए पत्र पर प्रतिक्रिया देते हुए कही !


            मीडिया प्रभारी सचिन सक्सेना के अनुसार वास्तव में ये बाबा महाकाल का ही आशीर्वाद है कि सिंहस्थ जैसे धार्मिक पावन आयोजन का सौभाग्य भारतीय जनता पार्टी की सरकार को प्राप्त होता है !  कांग्रेस के नेताओं को ये अच्छे से समझ लेना चाहिए की 12 वर्ष में एक बार सिंहस्थ आता है जिसके सञ्चालन का सौभाग्य बाबा महाकाल के आशीर्वाद से भाजपा की सरकार को ही प्राप्त होता है ,भाजपा  की सरकार सिंहस्थ भी करवाना जानती है और शहर का विकास भी करवाना जानती है ! श्री दिग्गविजय सिंह आज जिस प्रकार के आरोप उज्जैन के जनप्रिय मंत्री डॉ मोहन यादव पर लगा रहें है वास्तव में ये कांग्रेस द्वारा सिंहस्थ में घोटाले ना कर पाने की खीज को दर्शाता है ,  ये उज्जैन के जनप्रतिनिधियों की दूरदृष्टि का ही परिणाम है कि विश्व का सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन सिंहस्थ बिना किसी जाम और बाधा के सफलता पूर्वक संपन्न हुआ ! 

            भाजपा जिलाध्यक्ष श्री विवेक जोशी ने कहा की वर्ष 1974 में पहला मास्टर प्लान बना था जो वर्ष 1994 तक लागू था पंरतु इन्हीं दिग्गविजय सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस वाली सरकार अपने 10 वर्ष के कार्यकाल में मास्टर प्लान का प्रकाशन तक नहीं करवा पायी थी परन्तु भाजपा की सरकार ने वर्ष 2006 में मास्टर प्लान का प्रकाशन करवाया जो कि वर्ष 2021 तक लागू है जिसके अंतर्गत शहर में 14 ब्रिज आतंरिक फोरलेन प्रमुख चौराहों का सौंदर्यीकरण , पुराने शहर के मार्गों का चौड़ीकरण करवाए गए जिससे ना सिर्फ सिंहस्थ का सफल आयोजन हो सका अपितु शहर की एक महानगर की भाँती पहचान बनी है ! श्री जोशी ने कहा की जो विकास का मास्टर प्लान तैयार हो रहा है उसके अंतर्गत ही आने वाले 2028 और 2040 के सिंहस्थ का सञ्चालन भी बाबा महाकाल के आशीर्वाद से सफलता पूर्वक किया जायेगा ! श्री जोशी ने पत्र पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि   दिग्गविजय सिंह  के नेतृत्व में पुरे प्रदेश का बंटाधार हुआ था ठीक उसी प्रकार उनके मशवरे से उज्जैन का बंटाधार होना भी तय है इसलिए उज्जैन के मामले में उनके किसी भी मशवरे की आवश्यकता नहीं है , वैसे भी खुद कमलनाथ जी ने ये स्वीकार किया है की दिग्गविजय सिंह जी के कारण ही उनकी सरकार का भी बंटाधार हो गया ! श्री जोशी ने कहा कि उज्जैन शहर का विकास भाजपा सरकार की प्राथमिकता में शामिल है अतएव उज्जैन के लिए दिग्गविजय सिंह के किसी भी प्रमाणपत्र की आवश्यकता नहीं है !

Popular posts
अखाड़ा परिषद् अध्यक्ष नरेंद्र गिरी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत
Image
देश के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले वीर जवानों को श्रद्धांजलि
स्ट्रांग रूम का निरीक्षण करने के लिए राजनीतिक दल आमंत्रित 
फेसबुक गैंग के गुंडे दुर्लभ कश्यप की हत्या
Image
सरकारी जमीन पर तान दी मल्टी, टीएनसीपी ने निरस्त की अनुमति, नगर निगम ने भ्रष्टाचार की सीमा तोड़ी,,, बिल्डर ने शासकीय अधिकारी एवं इंजीनियरों से सांठगांठ कर अवैध मल्टी का निर्माण करने पर नगर निगम इंजीनियर मीनाक्षी शर्मा, भवन अधिकारी रामबाबू शर्मा, नगर निवेशक मनोज पाठक पर धारा 420, 467, 468, 471, 120-बी भादवी एवं भ्रष्टाचार का प्रकरण दर्ज करने की मांग की थी
Image