यारों दोस्ती बहुत ही हसीन है...एण्डटीवी पर

 





दोस्ती एक ऐसा रिश्ता है जो खून के रिश्ते से बंधा नहीं होता, लेकिन यह खून के किसी भी रिश्ते से कहीं ज्यादा करीबी और मजबूत होता है। आज हम बात कर रहे हैं टीवी के कलाकारों के बीच होने वाली इसी पक्की दोस्ती की। जब कलाकार एक साथ काम करते हैं, तो उनके बीच भी दोस्ती का एक अटूट रिश्ता बन जाता है। और ये दोस्ती सिर्फ लाइट्स, कैमरा और एक्शन तक ही सीमित नहीं होती! दोस्ती का ऐसा ही जश्न मना रहे हैं एण्डटीवी के जिगरी दोस्त - ‘घर एक मंदिर - कृपा अग्रसेन महाराज की‘ की गेंदा अग्रवाल, हर्षा गोयल और पंखुड़ी जैस्वाल ‘और भई क्या चल रहा है‘ की शांति मिश्रा और सकीना मिर्जा, रमेश प्रसाद मिश्रा और जफर अली मिर्जाय तथा ‘भाबीजी घर पर हैं‘ के विभूति नारायण मिश्रा और मनमोहन तिवारी।  

एण्डटीवी के नये दोस्तः एण्डटीवी नये शो ‘घर एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की‘ की शूटिंग हाल ही में शुरू हुई है। इस शो की गेंदा (श्रेणू पारीख), हर्षा गोयल (काजल पाटिल) और पंखुड़ी जैस्वाल (हीना वरडे) की तिकड़ी, दोस्ती की एक नयी मिसाल पेश कर रही है। परदे पर इनका बड़ा खूबसूरत रिश्ता है, तीनों एक-दूसरे का साथ देती हैं और एक-दूसरे की ताकत हैं; श्रेणू, काजल और हीना के बीच परदे के पीछे भी एक करीबी रिश्ते की शुरूआत हो चुकी है। श्रेणू पारीख ऊर्फ गेंदा कहती हैं, ‘‘सेट पर काजल और हीना के साथ मिलते ही एक कनेक्शन-सा बन गया। कुछ दिनों में ही हम काफी घुलमिल गये हैं। अब तो ऐसा लगता ही नहीं हैं कि हम अभी-अभी ही मिले हैं। वे मुझे मेरे स्कूल फ्रेंड्स की याद दिलाती हैं और उनके साथ वक्त बिताने से बस पुरानी यादें ताजा हो जाती हैं।‘‘ काजल पाटिल ऊर्फ हर्षा गोयल कहती हैं, ‘‘श्रेणू और हीना बहुत ही प्यारी हैं। उनसे मिलते ही कनेक्शन सा बन गया और दोस्ती के लिये ज्यादा कोशिश भी नहीं करनी पड़ी। और यही बात हमारे रिश्ते को इतना खास बनाती है। चूंकि, हमलोग शूटिंग कर रहे होंगे तो मैं ‘फ्रेंडशिप डे‘ उनके साथ ही मनाऊंगी। मुझे पूरा यकीन है कि बहुत ही मजेदार वक्त बीतने वाला है! हीना वरडे ऊर्फ पंखुड़ी जैस्वाल कहती हैं, ‘‘कुछ रिश्ते बड़े सच्चे होते हैं और एक-दूसरे से मिलते ही बन जाते हैं। उसके लिये ज्यादा प्रयास करने की जरूरत नहीं पड़ती। कुछ ऐसा ही हमारा रिश्ता भी है। पहले दिन से ही हमारे बीच दोस्ती हो गयी थी। हर बीतते दिन के साथ आॅन-स्क्रीन और आॅफ-स्क्रीन यह बाॅन्ड और भी ज्यादा मजबूत और घनिष्ठ होता जा रहा है।‘‘ 


कभी दुश्मन तो कभी सहेलीः एण्डटीवी के ‘और भई क्या चल रहा है?‘ में शांति मिश्रा (फरहाना फातिमा) और सकीना मिर्जा (अकांशा शर्मा) भले ही एक ही हवेली में रहने वाली चुगलखोर पड़ोसन हैं। लेकिन आॅन-स्क्रीन और आॅफ-स्क्रीन, दो लीड अभिनेत्रियों का ‘कभी दुश्मन कभी सहेली‘ वाला रिश्ता एक खूबसूरत तालमेल बनाता है। अपनी दोस्ती के बारे में अकांशा शर्मा यानी सकीना मिर्जा कहती हैं, ‘‘समय के साथ फरहाना मेरी बहुत अच्छी सहेली बन गयी हैं। हम दोनों एक साथ मेकअप करते हैं, साथ में खाना खाते हैं, म्यूजिक सुनते हैं, मजेदार रील्स बनाते हैं और कई बार गाॅसिप भी करते हैं। कई बार ऐसा हुआ है कि मैं उर्दू के कुछ शब्द सही तरीके से नहीं बोल पाती तो फरहाना उसमें मेरी मदद करती हैं। वह मेरे लिये समय निकालती हैं और मेरे उर्दू के लहजे़ को सुधारती हैं। मुझे नहीं पता था कि मुझे काम की जगह अपनी सबसे अच्छी सहेली मिल जायेगी।‘‘ फरहाना फातिमा ऊर्फ शांति मिश्रा कहती हैं, ‘‘आॅन-स्क्रीन हम परफेक्ट पड़ोसन हैं, हम लड़ते-झगड़ते हैं और दूसरों के सामने एकजुट हो जाते हैं। लेकिन परदे के पीछे हम बहुत ही अच्छी सहेलियां बन गयी हैं। हमारा मेकअप रूम हैंगआउट स्पाॅट है! हम हर तरह की चीज वहां करते हैं और खूब सारी मस्ती होती है। एक्टिंग और डांसिंग हम दोनों को ही बेहद पसंद है, जिसकी वजह से हम इतने करीब आये। अकांशा बहुत ही अच्छी को-स्टार हैं और अब सबसे करीबी सहेलियों में से एक हैं। वह मेरे लिये परिवार की तरह हैं।‘‘  

अच्छे वक्त के सबसे बड़े दुश्मन और बुरे वक्त के सबसे अच्छे दोस्तः एण्डटीवी के शो ‘और भई क्या चल रहा है?‘ में ऑन-स्क्रीन कट्टर दुश्मन मिश्रा (अंबरीश बॉबी) और मिर्जा (पवन सिंह) कुछ ही समय में सबसे अच्छे दोस्त बन गये हैं। ये दोनों भाईचारे और प्यार का रिश्ता बखूबी निभा रहे हैं। उनकी दोस्ती का मतलब ही है मजाक, मस्ती, चुटकुले और खूब सारी हंसी। रमेश प्रसाद मिश्रा के रूप में नजर आने वाले अंबरीश बॉबी ने अपनी दोस्ती के बारे में बताया, “जब से मैं पवन से मिला हूं, दिल से उसके साथ जुड़ाव महसूस करता हूं। वह सभी लोगों से गर्मजोशी से मिलने वाला और एक प्यारा इंसान है। मैं उससे हर चीज के बारे में बात कर सकता हूं। जब हम शूटिंग नहीं कर रहे होते, तो घंटों लखनऊ, करंट अफेयर्स, एकिं्टग और कई चीजों के बारे में बातें करते रहते हैं। इस ‘फ्रेंडशिप डे‘ पर पवन के साथ वक्त बिताकर मुझे बेहद खुशी मिलेगी।“ जफर अली मिर्जा ऊर्फ पवन सिंह कहते हैं, “अंबरीश और मेरी दोस्ती ’ये दोस्ती हम नहीं तोडें़गे’ वाली दोस्ती है। मेरा मानना है कि जैसे मिर्जा अपने प्रतिद्वंद्वी मिश्रा के बिना अधूरा है, वैसे ही मैं अंबरीश के बिना अधूरा हूं। वह मेरे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गये हैं जिसे मैं बहुत प्यार से रखता हूं। मेरे लिए अंबरीश बड़े भाई की तरह हैं। जब हम शूटिंग नहीं कर रहे होते हैं तो हम अपने मेकअप रूम में काफी समय बिताते हैं। हम मजेदार रील्स बनाते हैं। हमारी एक रील में, हमने डांस करने की भी कोशिश की है! मुझे लगता है कि केवल अंबरीश ही मेरे पागलपन को समझ सकते हैं और उसे झेल सकते हैं।”

छोटे परदे के जय और वीरूः  एण्डटीवी के शो ‘भाबीजी घर पर हैं‘ में, विभूति नारायण मिश्रा (आसिफ शेख) और मनमोहन तिवारी (रोहिताश्व गौड़) के बीच का प्यार देखते ही बनता है। ऑन-स्क्रीन, वे लगातार एक-दूसरे से आगे निकलने की कोशिश करते हैं, लेकिन ऑफ-स्क्रीन, वे एक दूसरे के बिना नहीं रह सकते और उनकी दोस्ती कमाल की है! अपने मजेदार रिश्ते के बारे में आसिफ शेख, ऊर्फ विभूति नारायण मिश्रा कहते हैं, “रोहिताश्व और मैं सबसे अच्छे दोस्त हैं; हम कई सालों से एक साथ काम कर रहे हैं और हमारा रिश्ता शानदार है। पर्दे पर हमारा किरदार उतार-चढ़ाव भरा है, लेकिन हमारी आपसी समझ ने इसे निभाना बेहद आसान कर दिया। इस तरह की दोस्ती आपको हमेशा प्रेरित करती है क्योंकि आप जानते हैं कि कोई है जो हमेशा आप पर विश्वास करेगा। इस ‘फ्रेंडशिप डे‘ पर, मैं प्रार्थना करता हूं कि हमारी दोस्ती लम्बे समय तक बनी रहे, क्योंकि यह दोस्ती मेरे दिल के बहुत करीब है। ”मनमोहन तिवारी ऊर्फ रोहिताश्व गौड़ आगे कहते हैं, ’’लगभग सात साल एक साथ बिताने के बाद, हमने एक-दूसरे के बारे में बहुत कुछ सीखा है। हम जानते हैं कि हम हमेशा एक-दूसरे के लिये मौजूद हैं लेकिन एक साथ स्क्रीन साझा करना सोने पे सुहागा जैसा है। ऑन-स्क्रीन, हमारी जलन हमारे ज्यादातर झगड़ों की शुरूआत की वजह बनती है। पर्दे के पीछे तिवारी जी और विभूति दोनों ही छोटे-छोटे जोक पर हंसते हैं और साथ खाना भी खाते हैं। कभी-कभी मैं दोपहर के खाने  के लिए उनकी पसंदीदा दाल भी लाता हूं। वहीं, वह मेरे लिए अपने हाथों के बने कुछ रसीले कबाब और पकवान लेकर आते हैं। उन्हें ये सब बनाना अच्छा लगता है। ऐसी चीजें हमारे रिश्ते को और भी मजबूत बनाती हैं।”


इस ‘फ्रेंडशिप डे‘, एण्डटीवी के बीएफएफ को देखिये 

 श्रेणू पारीख (गेंदा), काजल पाटिल (हर्षा गोयल) और हीना वरडे (पंखुड़ी जैस्वाल) को ‘घर एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की‘ में, जिसका प्रीमियर 10 अगस्त, 2021 को रात 9ः00 बजे होने जा रहा है; अकांशा शर्मा (सकीना) और फरहाना फातिमा (शांति), पवन सिंह (मिर्जा) और अंबरीश बॉबी (मिश्रा) को ‘और भई क्या चल रहा है?‘ में रात 9ः30 बजे; आसिफ शेख (विभूति नारायण मिश्रा) और रोहिताश्व गौड़ (मनमोहन तिवारी) को ‘भाबीजी घर पर हंै?‘ में रात 10 बजे हर सोमवार से शुक्रवार केवल एण्डटीवी पर!

Popular posts
इंदौर में कोरोना ब्लास्ट,हर दूसरा सैंपल पॉजिटिव
Image
जिलाधीश बंगले के समीप रहने वाले अधिकारी सहित 5 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई, 3 को लग चुके थे बूस्टर डोज, आने वाले दिनों में स्थिति और भी बिगड़ सकती है
Image
भोले नाथ की शरण में पहुंचे कमलनाथ, कांग्रेस प्रत्याशियों के पक्ष में ली आमसभा
Image
राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के मौके पर वैकल्पिक चिकित्सक संघ द्वारा आयोजित 13 वाॅ अखिल भारतीय चिकित्सक सम्मान समारोह 1 जुलाई को स्थानीय कालिदास अकादमी उज्जैन में सम्पन्न हुआ...
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image