गुरुकुलों, विद्यालयों का एकीकरण कर संस्कृति को जीवंत बनाया जाए

 



प्रबुद्ध जन संवाद कार्यक्रम ”की अगली कड़ी में महर्षि पाणिनि संस्कृत एवं वैदिक विश्वविद्यालय उज्जैन के कुलपति विजय कुमार सी जी द्वारा चार धाम मंदिर के महामंडलेश्वर स्वामी शांति स्वरूप आनंद गिरि जी महाराज से सौजन्य भेंट की गई। स्वामी जी ने संस्कृत विषय की प्रति अपनी चिंता व्यक्त की कि वर्तमान में दृढ़ रूप से शास्त्र पढ़ने वाले छात्रों की कमी है सनातन परंपरा की अमूल्य साहित्य को वर्तमान से जोड़ने का कार्य ऐसे छात्र ही करेंगे । स्वामी जी ने कहा कि भारतीय ज्ञान संपदा को आगे बढ़ाने की आवश्यकता है।कुलपति जी ने कहा की विश्वविद्यालय के संस्कृत शिक्षण प्रशिक्षण ज्ञान संवर्धन केंद्र के द्वारा संभाषण कक्षाओं का संचालन समय-समय पर किया जाता है जिसका लाभ आम जनता को होता है यह शिक्षण निशुल्क होता है। अतःसंभाषण कक्षाओं का संचालन ऐसे बच्चों के ज्ञान संवर्धन की दृष्टि से स्वामी जी के आश्रम में संचालित किया जाएगा जिसका लाभ कोई भी इच्छुक व्यक्ति ले सकता है। चर्चा में व्यापक दृष्टिकोण रखते हुए कुलपति जी ने विचार रखा कि उज्जैन जिले के सभी गुरुकुलों, विद्यालयों का एकीकरण कर संस्कृति को जीवंत बनाया जाएगा।वर्तमान कुलपति महोदय एक व्यापक दृष्टिकोण रखते हुए विश्वविद्यालय के विकास  में एक साकार कल्पना को मूर्त रूप देने का प्रयास कर रहे हैं। यहां सौजन्य भेंट उस कल्पना को मूर्त रूप देने में सहायता करेगी।

Popular posts
इन्दौर के चिकित्सकों का दल सेवाधाम की हवा और दीवारों की जांचकर ढूंढेगा मौत के कारण*
Image
breaking ,,,,मध्यप्रदेश में पंचायत और निकाय चुनाव कराने के आदेश दिए सुप्रीम कोर्ट ने
Image
किंकिणी कीर्तन राष्ट्रीय नृत्य उत्सव* के माध्यम से फिर एक बार महाकाल की नगरी उज्जैन में कथक नृत्य का एक प्रतिष्ठा पूर्ण आयोजन होने जा रहा है
Image
कलेक्टर ने बैठक में निर्देश दिये कार्यक्रमों का मिनिट टू मिनिट कार्यक्रम तैयार किया जाये,,,,,,,29 मई को राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद का उज्जैन दौरा प्रस्तावित, अ.भा.आयुर्वेद महासम्मेलन व स्व-सहायता समूह के सम्मेलन में भाग लेंगे
Image
बिग ब्रेकिंग ,,,,,,जून में होंगे चुनाव,,,,?
Image