सुमराखेड़ा सेक्टर में विशेष ग्राम सभाएं आज

 


उज्जैन। सीईओ जिला पंचायत श्री नीलेश पारिख द्वारा जानकारी दी गई कि शुक्रवार 3 जनवरी को जनपद पंचायत के सेक्टर सुमराखेड़ा में रावल परिसर सुमराखेड़ा और आसपास की अन्य ग्राम पंचायतों में विशेष ग्राम सभाएं आयोजित की जायेंगी। इस हेतु सेक्टर अधिकारियों की नियुक्ति विभिन्न ग्राम पंचायतों में की गई है। अधिकारीगण उन्हें आवंटित ग्राम पंचायतों में प्रात: 9 बजे उपस्थित होकर जारी एजेण्डा के अनुसार गुणवत्तापूर्वक विशेष ग्राम सभा का आयोजन कराना सुनिश्चित करेंगे।
ग्राम सभाओं में ग्राम पंचायतों में स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता और योजनाओं, आंगनवाड़ी से सम्बन्धित सेवाओं और संचालन की नियमितता, सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत प्राप्त सेवाओं, राजस्व सेवाओं- अविवादित नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन, अतिक्रमण आदि भू-अधिकार पुस्तिकाओं का वितरण, खसरा, नक्शा, नकल आदि, प्राथमिक, माध्यमिक एवं उच्चतर शिक्षा से सम्बन्धित विषय, कृषि आदानों, खाद-बीज योजनाओं का लाभ और लाभान्वितों की जानकारी, स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत शेष घरों में शौचालय निर्माण के लिये अभिप्रेरण, मनरेगा के अन्तर्गत मजदूरों को रोजगार और मजदूरी भुगतान, सामाजिक सहायता की विभिन्न योजनाओं की जानकारी, ग्रामीण विकास की विभिन्न योजनाओं की जानकारी और एनआरएलएम के अन्तर्गत गठित समूहों पर चर्चा की जायेगी।
आदेश के तहत ग्राम पंचायत सुमराखेड़ा के लिये कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग श्री गौतम अधिकारी, ग्राम पंचायत दुबली के लिये संयुक्त संचालक सामाजिक न्याय श्री सीएल पंथारी, ग्राम पंचायत मुंडली के लिये जिला शिक्षा केन्द्र एसएसए श्री पीएस सोलंकी, ग्राम पंचायत बगोदा के लिये उप संचालक पशु चिकित्सा श्री एचव्ही त्रिवेदी, ग्राम पंचायत बीजपड़ी के लिये परियोजना अधिकारी श्री अजय भालसे, ग्राम पंचायत बघेरा के लिये जीएम डीआईसी श्री टीआर रावत, ग्राम पंचायत दुधली के लिये उप संचालक उद्यानिकी श्री केएस गुर्जर, ग्राम पंचायत नानूखेड़ा के लिये उपायुक्त डीआरसीएस श्री ओपी गुप्ता, ग्राम पंचायत पलदूना के लिये उप संचालक कृषि श्री सीएल केवड़ा, ग्राम पंचायत सांकरी के लिये जिला शिक्षा अधिकारी श्रीमती रमा नाहटे और ग्राम पंचायत पिपल्या कायथा के लिये परियोजना अधिकारी आत्मा श्री बीएस जामरे को सेक्टर अधिकारी नियुक्त किया गया है।
आदेश के तहत सम्बन्धित अनुविभागीय अधिकारी राजस्व द्वारा अधिक से अधिक ग्राम पंचायतों का भ्रमण कर आयोजित विशेष ग्राम सभा में आमजन की भागीदारी सुनिश्चित की जायेगी। इसकी सूचना मुनादी के द्वारा ग्रामीणों को दी जायेगी। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत यह सुनिश्चित करेंगे कि उपरोक्त समस्त ग्राम पंचायतों में विशेष ग्राम सभा आयोजन के पूर्व कम से कम तीन से चार बार मुनादी अनिवार्य रूप से कराई जाये और यह भी सुनिश्चित किया जाये कि ग्राम पंचायत मुख्यालय और ग्राम पंचायत के आश्रित ग्रामों के निवासियों को विशेष ग्राम सभा आयोजन की जानकारी मिल जाये।
गौरतलब है कि यदि किसी ग्राम में विशेष ग्राम सभा आयोजन की जानकारी की मुनादी नहीं कराई जाती है तो सम्बन्धित मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत की व्यक्तिगत लापरवाही मानते हुए अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी। यह उल्लेखनीय है कि आज होने वाली विशेष ग्राम सभाओं का उद्देश्य दूरस्थ ग्रामों में नागरिकों को शासन की विभिन्न योजनाओं में नियमानुसार पात्र बनाकर लाभान्वित करना है और उनकी समस्याओं का निराकरण करना है।


Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
हाल बेहाल,,,,, गंभीर मरीज के सामने मरने के अलावा कोई रास्ता नहीं,,,,,,, जिले के प्रभारी मंत्री का फोन भी बंद ,,,,,,,प्रशासन ने भी जानकारी के लिए कोई नंबर सार्वजनिक नहीं किया,,,,,,, गंभीर मरीज क्या करें यह उसे बताने वाला कोई नहीं
Image
पत्रकार आम जनता की आवाज बने ,कलम से ज्यादा कुछ भी ताकतवर नहीं,
Image