स्वच्छता को आय का जरिया बना कर चुना लगाया, परिणाम देश में फिसड्डी


उज्जैन। नगर निगम अधिकारियों के स्वच्छता के नाम पर कागजी दिखावे के परिणाम स्वरुप उज्जैन स्वच्छता अभियान में पिछड़ गया, और फिसड्डी हो गया। स्वच्छता को आय का जरिया बनाकर चूना लगाया और भ्रष्टाचार किया।
उक्त आरोप लगाते हुए पार्षद माया राजेश त्रिवेदी ने कहा कि घर-घर कचरा कलेक्शन कंपनी से सांठगांठ, मॉनिटरिंग एजेंसी से सांठगांठ के साथ-साथ संपूर्ण शहर में अनुपस्थित कर्मचारियों की उपस्थिति दिखाकर घर बैठे अंगूठे लगवा कर पूर्व आयुक्त प्रतिभा पाल के संरक्षण में जो खेल खेला था उसकी परिणिति में आज उज्जैन 246 वें स्थान पर नजर आ रहा है। माया त्रिवेदी ने कहा कि मैंने पिछले सदन में आगाह किया था व भ्रष्टाचार के प्रमाण भी दिए थे। साथ ही स्वच्छता के ब्रांड एंबेसेडर के महाकाल दर्शन के दौरान दिए गए बयान का उल्लेख भी किया था कि उन्होंने कहा था कि उज्जैन को पहला स्थान कैसे, उज्जैन 52वें स्थान के लायक भी नहीं। परंतु उसके बाद भी सब बातों की अनदेखी की गई और बड़े पैमाने पर सभी क्षेत्रों में भ्रष्टाचार हुआ शहर के लोग तो जागरूक हैं लेकिन नगर निगम के अधिकारी कर्मचारियों के साथ भ्रष्टाचार में लिप्त है जिसके परिणीति में उज्जैन स्वच्छता अभियान में पिछड़ रहा है।


Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
पूर्व मंत्री बोले सरकार तो कांग्रेस की ही बनेगी
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
विश्व के 21 देश की हस्तियां पहली बार उज्जैन में एक मंच पर आएगी, संयुक्त चेतना सम्मेलन में प्रधानमंत्री मोदी के योग गुरु भी शामिल होंगे,,कुछ हस्तियां चार्टर प्लेन से भी आएगीश्री महाकालेश्वर का 21 देश के पानी से जलाभिषेक भी होगा
Image