आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम में हितग्राहियों को सोलर ऊर्जा के प्रति जागरूक किया जाये –कमिश्नर

 हैण्ड पम्पों की क्षतिग्रस्त पाईप लाइनों को दुरूस्त किया जाये


उज्जैन  उज्जैन संभाग कमिश्नर श्री आनन्द कुमार शर्मा ने मंगलवार को लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, जल संसाधन, मप्रपक्षेविवि कंपनी, विद्युत सुरक्षा एवं ऊर्जा विकास निगम की योजनाओं एवं कार्यक्रमों की संभागीय समीक्षा की। कमिश्नर ने ऊर्जा विकास निगम के कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिये कि वर्तमान समय में सोलर ऊर्जा भविष्य के लिये एक विकल्प साबित होगा, इसलिये सोलर ऊर्जा के प्रति आमजन को जागरूक किया जाये। उन्होंने निर्देश दिये कि ‘आपकी सरकार, आपके द्वार’ कार्यक्रम में प्रमुखता से सोलर ऊर्जा के प्रति हितग्राहियों को जागरूक किया जाये और प्रेरित किया जाये कि वे अपने घरों में सोलर ऊर्जा का उपयोग करें। बताया गया कि आने वाला समय सौर ऊर्जा का है। 2021 तक प्रदेश में 21 हजार सोलर पम्प लगाये जायेंगे। इसके लिये किसानों को जागरूक भी किया जायेगा। बैठक में बताया गया कि सोलर ऊर्जा से संचालित पांच हॉर्सपावर के पम्प में पांच हेक्टेयर क्षेत्र तक में सिंचाई संभव है। कमिश्नर ने पीएचई विभाग की समीक्षा करते हुए निर्देश दिये कि संभाग के सभी जिलों के बिगड़े हैण्ड पम्पों को प्राथमिकता से सुधारा जाये। उन्होंने कहा कि जहां पानी का स्तर कम हो, वहां पानी के स्तर को बढ़ाने के लिये वैकल्पिक उपाय किये जायें। कमिश्नर ने निर्देश दिये कि जो हैण्ड पम्प क्षतिग्रस्त हैं और जिनकी पाईप लाइन क्षतिग्रस्त है, उन हैण्ड पम्पों को दुरूस्त किया जाये।
बैठक में अधीक्षण यंत्री पीएचई ने बताया कि जल जीवन मिशन 15 अगस्त से लांच किया गया है। इस मिशन के अन्तर्गत सभी घरों में नल से जल देने का कार्य किया जायेगा। प्रदेश में इस योजना की प्रगति 12 प्रतिशत है, लेकिन उज्जैन संभाग में प्रगति 25 प्रतिशत है। इस योजना के अन्तर्गत ‘एक नल एक कनेक्शन’ के अनुसार कनेक्शन ऑनलाइन कर रहे हैं। प्रति व्यक्ति 55 लीटर पानी देने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। मुख्य अभियंता जल संसाधन विभाग ने बताया कि संभाग में पानी की वर्तमान में कोई समस्या नहीं है। तालाब एवं माइनर टेंक भी भरे हुए हैं। देवास में चार परियोजनाएं, उज्जैन में दो परियोजनाएं संचालित है। मप्रपक्षेविवि कंपनी के अधीक्षण यंत्री ने बताया कि मुख्यमंत्री पाईप लाइन योजना के अन्तर्गत सोलर पम्प लगाने के लिये हितग्राहियों को सहायता दी जा रही है।
बैठक में सभी सम्बन्धित अधिकारीगण मौजूद थे।