इनसे मिलिए,,,, यह है जिलाधीश और एसपी ,,,जिन्हें जमकर किया जा रहा है ट्रोल

लखनऊ। जनता कर्फ्यू के दिन इंदौर के अति उत्साहित लोगों ने राजबाडा पर जुलूस निकालकर जहां अपनी बुद्धिमता? का परिचय दिया वही लखनऊ के कलेक्टर और एसपी ने भी बता दिया कि वह कितने पढ़े लिखे हैं।रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से बुलाए गए 'जनता कर्फ्यू' के दिन शाम 5 बजे पूरे देश में लोगों ने ताली और थाली बजाकर उन लोगों को धन्यवाद दिया जो कोरोना वायरस से अग्रिम मोर्चे पर जूझ रहे हैं,
 दरअसल पीएम मोदी ने लोगों से डॉक्टर, नर्स, नगर निगम के कर्मचारी, पुलिस को धन्यवाद देने के लिए ऐसा आयोजन किया था,लेकिन इंदौर इसी बात को लेकर चर्चा में है,दरअसल वहां कुछ लोगों ने इस आयोजन को जुलूस का शक्ल दे दिया, जबकि इस बीमारी को रोकने के लिए बार-बार कहा जा रहा है कि भीड़ इकट्ठा न होने पाए, लेकिन उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में नजारा कुछ और ही देखने को मिला, यहां पर डीएम और एसपी खुद ही जुलूस की शक्ल में शंख और घंटा बजाते हुए निकल पड़े, अब जिलाधीश और पुलिस अधीक्षक की इस हरकत की हर जगह निंदा की जा रही है।