इस महामारी से बचने के लिये हम सब अलर्ट हैं, कलेक्टर

कोरोना वायरस की आपात स्थिति से निपटने हेतु माधव नगर अस्पताल में कलेक्टर की उपस्थिति में मॉकड्रील हुई
 
उज्जैन । कोरोना वायरस के संक्रमण की लड़ाई के लिये तथा आपात स्थिति निर्मित होने पर अस्पताल के चिकित्सकों के द्वारा त्वरित कैसे निपटा जाये, इसको लेकर माधव नगर अस्पताल में मॉकड्रील की गई। इस अवसर पर कलेक्टर श्री शशांक मिश्र, अपर कलेक्टर श्री क्षितिज सिंघल, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी डॉ.आरपी तिवारी, स्वास्थ्य विभाग की क्षेत्रीय संयुक्त संचालक, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सहित चिकित्सक, कर्मचारी आदि उपस्थित थे।
 चिकित्सा अधिकारियों एवं कर्मचारियों के द्वारा की गई मॉकड्रील को कलेक्टर एवं प्रशासनिक अधिकारियों ने देखा और सम्बन्धित चिकित्सकों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। माधव नगर अस्पताल में बनाये गये आइसोलेशन वार्ड में पहुंचकर मॉकड्रील के दौरान कैसे कोरोना वायरस के मरीज पाये जाने पर त्वरित इलाज करने की कार्यवाही को देखा। इस दौरान बताया गया कि माधव नगर जिला अस्पताल सहित अन्य शासकीय एवं प्रायवेट अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाये गये हैं, ताकि कोरोना वायरस के आकस्मिक मरीज मिलने पर उसका त्वरित इलाज हेतु रखा जा सकेगा। कलेक्टर ने बताया कि आपात स्थिति से निपटने के लिये जिला प्रशासन एवं जिला अस्पताल प्रशासन ने तैयारियां की हैं। इस महामारी से बचने के लिये हम सब अलर्ट हैं। कलेक्टर ने इस सम्बन्ध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं सिविल सर्जन को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये हैं। साथ ही निजी चिकित्सालयों के प्रमुखों को भी  आपात स्थिति से निपटने के लिये तैयार रहने के निर्देश दिये हैं। कोरोना वायरस से निपटने के लिये स्वास्थ्य अधिकारी-कर्मचारियों को इस सम्बन्ध में प्रशिक्षण दिया जा चुका है। सिंहस्थ मेला कार्यालय में स्थित स्मार्ट सिटी कार्यालय में कंट्रोल रूम बनाया गया है।
 कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति के खुली जगह में छींकने व खांसने से, संक्रमित व्यक्ति से, हाथ मिलाने, गले लगने आदि सम्पर्क में आने के बाद बिना हाथ धोये अपनी आंख, मुंह एवं नाक को छूने से फैलता है। इस हेतु सर्दी-जुकाम से पीड़ित मरीज, भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोने, खांसते व छींकते समय मास्क एवं रूमाल का उपयोग, सी-फूड एवं कच्चा मांस खाने से, संक्रमित व्यक्ति के निकट सम्पर्क में आने से बचें। हाथ न मिलायें, गले न लगें, अनावश्यक यात्रा न करें।


Popular posts
अखाड़ा परिषद् अध्यक्ष नरेंद्र गिरी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत
Image
देश के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले वीर जवानों को श्रद्धांजलि
स्ट्रांग रूम का निरीक्षण करने के लिए राजनीतिक दल आमंत्रित 
फेसबुक गैंग के गुंडे दुर्लभ कश्यप की हत्या
Image
सरकारी जमीन पर तान दी मल्टी, टीएनसीपी ने निरस्त की अनुमति, नगर निगम ने भ्रष्टाचार की सीमा तोड़ी,,, बिल्डर ने शासकीय अधिकारी एवं इंजीनियरों से सांठगांठ कर अवैध मल्टी का निर्माण करने पर नगर निगम इंजीनियर मीनाक्षी शर्मा, भवन अधिकारी रामबाबू शर्मा, नगर निवेशक मनोज पाठक पर धारा 420, 467, 468, 471, 120-बी भादवी एवं भ्रष्टाचार का प्रकरण दर्ज करने की मांग की थी
Image