कलेक्टर से स्वर्णिम भारत मंच ने कहा  भीड़ मंदिर में आती हैं तो मस्जिद में भी रहती है, निष्पक्ष हो प्रशासन 


कलेक्टर का कहना कत्लखाने व मांस-मटन की दुकान बंद करना नगर निगम के हाथ में 
उज्जैन। स्वर्णिम भारत मंच ने मंगलवार को कलेक्टर शशांक मिश्र से मांग की है कि शहर में चल रही मांस की दुकानें तत्काल हटाये जाने की मांग की व कहा कि कोरोना वायरस के कारण सार्वजनिक आयोजनों पर रोक लगा दी गई तो फिर मुस्लिम समाज का बेगमबाग में चल रहा धरना क्यों जारी है, जबकि महाकाल मंदिर में व चिंतामण मंदिर में भी दर्शनार्थियों को कोरोना से बचने के लिए नहीं आने की अपील की जा रही है। तो मस्जिदों में भी तो भीड़ बनी रहती है, उसका क्या? प्रशासन निष्पक्ष होकर निर्णय लें ताकी साम्प्रदायिक सदभाव पर आँच न आये। 
स्वर्णिम भारत मंच के दिनेश श्रीवास्तव ने बताया कि स्वर्णिम भारत मंच लंबे से मांस मटन की दुकानों के को हटाने का आंदोलन कर रहा है। इसी आशय का एक ज्ञापन कलेक्टर के नाम दिया गया। कत्लखाने बंद करवाये जाने की मांग पर कलेक्टर ने कहा कि मीट की दुकानें नगर निगम के अधिकार क्षेत्र में आते हैं। वहीं कोरोना को लेकर मीट मटन की दुकानें बंद करने का मध्यप्रदेश शासन आदेश जारी करेगा तो हम सख्ती से उसका पालन करवाएंगे।