ट्रैक्टर-ट्रॉली में सवारी बैठाना दण्डनीय अपराध है

*सड़क सुरक्षा नियमों का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश, पुलिस प्रशिक्षण एवं शोध संस्थान में हुई राज्य-स्तरीय सड़क सुरक्षा सेल की बैठक*


उज्जैन 20 मार्च। सहायक पुलिस महानिरीक्षक श्री अमृत मीना की अध्यक्षता में गत दिवस पुलिस प्रशिक्षण एवं शोध संस्थान में राज्य-स्तरीय सड़क सुरक्षा सेल की बैठक आयोजित की गई। श्री मीना ने कहा है कि सड़क सुरक्षा नियमों का वास्तविक रूप में कड़ाई से पालन कराने के प्रयास किये जाएं। उन्होंने नोडल अधिकारियों से कहा कि दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिये उनके नोडल विभागों द्वारा किये जा रहे प्रयासों की जानकारी उपलब्ध कराएं।
श्री अमृत मीना ने विभागों से कहा कि जिला स्तर से भी अद्यतन स्थिति की जानकारी हासिल की जाए। लीड एजेन्सी को लगातार अद्यतन जानकारी से अवगत कराएं। उन्होंने कहा कि जागरुकता एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम की भी जानकारी प्राप्त की जाए। श्री मीना ने कहा कि नोडल एजेन्सी विजन-2020 बनाकर प्रस्तुत करे। उन्होंने निर्देश दिये कि ट्रैक्टर-ट्रॉली में सवारी बैठाना दण्डनीय अपराध है, इस संबंध में जागरुकता के उद्देश्य से ग्रामीण क्षेत्रों में सूचक लगाए जाएं।
बैठक में लोक निर्माण विभाग-राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारी श्री मिथलेश पाण्डेय के निधन पर दो मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, लोक शिक्षण, परिवहन, लोक निर्माण एनएच एवं बी एण्ड आर, आबकारी, जनसम्पर्क, मध्यप्रदेश ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण, सड़क विकास निगम और भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के नोडल अधिकारी और लीड एजेन्सी से संबंधित सदस्य बैठक में उपस्थित थे।