विदेश से आए और गायब हो गए,,,,,,,अब स्वास्थ्य विभाग की टीम सख्ती से पुलिस की मदद से इन लोगों की जांच शुरू करने जा रही है

एक मार्च के बाद किस जिले में कितने विदेशी नागरिक
भोपाल। मध्य्यपदेश में विदेेश से नागरिक और आने के बाद कुछ लोगों का गायब हो जाना प्रदेश की सेहत केे लिए अच्छाा नहीं माना जाा रहा है, उज्जैन में भी विदेश सेे आने के बाद कुछ नागरिक गायब हो गए जिन्हेंं अब खोजा जाएगा।प्रदेश में कोरोना भयानक रूप लेता जा रहा है। प्रदेश में इनकी संख्या 47 हो गई है। सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव 27 मरीज इंदौर में मिले हैं। यहां अभी 401 विदेशी नागरिक भी शहर में ही रह रहे हैं। इंदौर में 4415 भारतीय नागरिक 15 फरवरी के बाद विदेश से लौटे हैं। और विदेशी नागरिक 1 मार्च के बाद प्रदेश के विभिन्न जिलों में पहुंचे हैं। अब प्रदेश सरकार ने सख्ती दिखाते हुए सभी की जांच कराने के आदेश दिए हैं।
प्रदेश सरकार ने विदेश मंत्रालय के सहयोग से 4456 विदेशी नागरिकों की नई सूची तैयार की है। ये वे विदेशी नागरिक हैं तो एक मार्च के बाद प्रदेश के विभिन्न जिलों में पहुंचे हैं। इनमें से अधिकांश ने अपनी जांच नहीं कराई है। अब स्वास्थ्य विभाग की टीम सख्ती से पुलिस की मदद से इन लोगों की जांच शुरू करने जा रही है। स्वास्थ्य विभाग ने जिला कलेक्टरों को एक मार्च के बाद आए विदेशी नागरिकों की नई लिस्ट भेजी है। इस लिस्ट में इनके नाम और अन्य जानकारी दी गई है। इनमें सबसे ज्यादा विदेशी 1654 विदेशी नागरिक छतरपुर पहुंचे हैं। इसके अलावा टीकमगढ़ में 463, इंदौर में 401, भोपाल में 371, बालाघाट में 261, उमरिया में 250, ग्वालियर में 221, सिवनी में 177, मंडला में 133, खरगोन में 122, उज्जैन में 65, जबलपुर में 50, छिंदवाड़ा में 50, नागरिक एक मार्च के बाद विदेश से आए हैं।


15 फरवरी के बाद किस जिले में आए कितने लोग


भिंड 5, भोपाल 2605, छतरपुर 195, छिंदवाड़ा 98, दमोह 9, दतिया 3, देवास 122, धार 134, डिंडोरी 3, ग्वालियर 689, गुना 67, हरदा 13, होशंगाबाद 197, इंदौर 4415, जबलपुर 725, झाबुआ 14, खंडवा 212, कटनी 153, खरगौन 51, मंदसौर 45, मुरैना 20, नरसिंहपुर 47, नीमच 206, पन्ना 7, रायसेन 29, राजगढ़ 12, रतलाम 510, रीवा 60, सागर 205, सतना 156, सीहोर 135, शहडोल 1, शिवपुरी 43, सीधी 12, सिंगरोली 13, टीकमगढ़ 28, उज्जैन 605, उमरिया 20, विदिशा 77, कुल 12125 लोग विदेश से लौटे हैं।