आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति हेतु अनुमति दी गई,आटा, तेल, दाल, चावल, मसाले आदि सुगमता से उपलब्ध होंगे

 


उज्जैन । उज्जैन नगर निगम सीमा क्षेत्र में लागू कर्फ्यू के दौरान आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति हेतु 14 अप्रैल को समीक्षा के उपरान्त संशोधित आदेश के अनुसार अनुमतियां प्रदान की गई हैं। एडीएम श्री आरपी तिवारी ने बताया कि उज्जैन नगर निगम सीमा एवं उज्जैन जिले के सभी अनुभागों में आमजन को अत्यावश्यक सामग्री आटा, तेल, दाल, चावल, मसाले आदि सुगमता से उपलब्ध करवाने हेतु किराने की ऐसी पंजीयनधारी छोटी दुकानें जो कि कॉलोनी के आन्तरिक भागों में संचालित हैं व जिनका शटर व गेट मुख्य सड़क मार्ग की ओर नहीं है तथा कंटेनमेंट एरिया में स्थित नहीं है, को सुरक्षा उपायों एवं सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करने की शर्त पर प्रात: 7 बजे से दोपहर 2 बजे तक केवल घर पहुंच सेवा हेतु आवश्यक सामग्री निकालने एवं रखने के लिये दुकान खोलने की अनुमति दी गई है।
उज्जैन नगर निगम सीमा एवं तहसील नागदा में दवा बाजार, दवाई की दुकानें, एलोपैथिक, आयुर्वेदिक, होम्योपैथिक एवं वेटनरी तथा पशु आहार की दुकानें प्रात: 10 बजे से अपराह्न 4 बजे तक खुली रहेंगी। शेष अन्य तहसीलों में मेडिकल स्टोर्स नियमित खुले रहेंगे। चिकित्सक के प्रिस्क्रिप्शन (पर्चा) अनुसार दवाईयां पैदल जाकर निकटतम मेडिकल स्टोर से क्रय की जा सकेंगी, वाहन से आवागमन प्रतिबंधित रहेगा। नर्सिंग होम, प्रायवेट हॉस्पिटल परिसर में संचालित मेडिकल स्टोर्स निरन्तर चौबीस घंटे खुले रहेंगे।
इसी तरह मेडिकल, आयुर्वेद डिग्रीधारी रजिस्टर्ड प्रायवेट चिकित्सकों के निजी क्लिनिक प्रात: 10 बजे से 4 बजे तक खोलकर इलाज की अनुमति प्रदान की गई है। किराना, ग्रॉसरी, सब्जी, दूध आदि की होम डिलेवरी रात्रि 8 बजे तक जारी रहेगी। कंटेनमेंट एरिया के अतिरिक्त अन्य स्थानों पर स्थित बैंक समस्त बैंकिंग कार्यों हेतु प्रात: 10 बजे से शाम 4 बजे तक खुले रहेंगे। यह आदेश तत्काल प्रभावशील किया गया है।


Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
पूर्व मंत्री बोले सरकार तो कांग्रेस की ही बनेगी
Image
नवनियुक्त मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को उज्जैन तथा अन्य जिलों से आए जनप्रतिनिधियों कार्यकर्ताओं और परिचितों ने लालघाटी स्थित वीआईपी विश्रामगृह पहुंचकर बधाई और शुभकामनाएं दी
Image
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image