ध्यान,भजन,सुमिरन से ही होगी रक्षा- महाराज जी

जयगुरुदेव
प्रेस नोट
15.4.2020

उज्जैन (मप्र)



समय ख़राब आ रहा 


मानव कल्याण, जगत कल्याण के लिए निरन्तर प्रयास करने वाले   वक्त के सन्त उमाकान्त जी महाराज ने बताया कि आगे जो परिस्थितियां बन रही है उस हिसाब से सुमिरन,ध्यान,भजन ही लोगों की रक्षा करेगा, लोगों को शांति,सुख प्रदान करेगा। ।बाकी आप ये समझो ,समय बेहद खराब आ रहा है । महात्मा जब चिल्लातें लगते है,बोलने लगते है,मेहनत करके लोगों को बताते है और लोग नही मानते है । तो प्रकृति अपने हाथ मे ले लेती है निर्णय करने का ।की हमको क्या निर्णय करना है ।क्योंकि प्रकृति के ख़िलाफ़ लोग काम करते है ।
ये जो पांच देवता है जल,अग्निपी, पृथ्वी,वायु,आकाश, यही पांच देवता शरीर को चलाते है और शरीर को यहाँ चलाने के लिए इन्होंने चीज़े मुहैया करा दिया । लेकिन जब उनकी व्यवस्था में लोग बाधा डालते है तो वो सज़ा देना भी जानते है


हवा जब ज़हरीली हो जाएगी तो कैसे बचेंगे ?


महाराज जी कहा हवा आप देखो कितनी सुखदायी होती है । फेफड़े का मरीज़ अगर बगीचे,खुली जगह, या पहाड़ पर चला जाता है तो स्वस्थ हो जाता है । और कही यही हवा ज़हरीली हो जाये तो यही जानलेवा हो जाती है ।इसको जब गन्दा करते है । अब गन्दा कैसे होता है ? इस समय धरती पर जो जानवरों को मारना,काटना कर रहे है लोग तो मारने,काटने वालो को नही पता कि ये जो ख़ून बह रहा है यानी उसके सड़ने का, जानवरों को जो मार रहे है उसके सड़ने की जो बदबू है ये कहाँ जा रही है ? ये वायुमंडल में ही तो जा रही है । 
ये जो कोरोना रोग फैला हुआ है आप ये समझो बहुत लोग मर रहे है । सही ख़बर आपको नही ।पूरे विश्व में ये फैला हुआ हैं और कुछ देशों में तो आप ये समझो जगह ही नहीं रह गई है उनको गाढ़ने की ।अब आप ये समझो कि जब वो सड़ेंगे, बदबु पैदा होगी और गैस बनेगी उनके अंदर या जो कीड़े रह गए उनके अंदर,वही जब भागने की कोशिश करेंगे तो आप समझ लो विस्फोट होगा । वायुमंडल गंदा हो जाएगा,हवा ज़हरीली हो जाएगी।  तो लोग कैसे बचेंगे ?


पवन देवता नाराज़ ।


महाराज जी ने सभी को आगाह करते हुए प्रार्थना करी कि आप समझो पवन देवता नाराज़ हो गए है ।तूफान ना भी आये तो भी बेहद तरीके है  सज़ा देने के ।धरती के ऊपर पाप बहुत हो 
रहा । धरती बेहद बर्दाश्त कर रही है पर उसकी भी एक सीमा है,कहाँ तक ये बर्दाश्त करेगी ? 
मैं पहले बोला करता था कि एक साथ दो-दो देवता सज़ा देने के लिए तैयार हैं ।कोरोना से अलग आदमी जूझ रहा सारे विश्व के लोग परेशान है ।इधर धरती भी हिल रही भूकंप आ रहे हैं । तो एक साथ जब दो-दो लोग सज़ा देने लग जाएंगे तो सोचो क्या हाल होगा ।तो बचेगा कोई साध जन जो सत से लौ लगाएगा वरना बज रहा काल का डंका कोई ना बचने पायेगा ।


समय निकलता जा रहा ।


मैं बराबर मालिक से प्रार्थना करता रहता हूँ । आप परमार्थी लोगों को भी करना चाहिए । जो अंजान है उनको उपाय बताना भी  हमारा धर्म बनता है । उनको कोई बताया नहीं कि शाकाहारी रहना चाहिए । कोई बताया नहीं कि मानव मन्दिर को गन्दा मत करो ।तो आप उनको बता दो ।
हालांकि अब प्रेमियों इस बात को बताने का समय निकलता जा रहा है, अब तो अपनी ही जान बचा लो, अपने जो नजदीक के है पहचान के है उनकी ही जान बचा लो । यही समय है बराबर नाम की कमाई करों । नामधुनि बराबर बोलते रहों और दूसरों से भी बुलवाते रहों ।


 


Popular posts
इंदौर में कोरोना ब्लास्ट,हर दूसरा सैंपल पॉजिटिव
Image
जिलाधीश बंगले के समीप रहने वाले अधिकारी सहित 5 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई, 3 को लग चुके थे बूस्टर डोज, आने वाले दिनों में स्थिति और भी बिगड़ सकती है
Image
भोले नाथ की शरण में पहुंचे कमलनाथ, कांग्रेस प्रत्याशियों के पक्ष में ली आमसभा
Image
राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के मौके पर वैकल्पिक चिकित्सक संघ द्वारा आयोजित 13 वाॅ अखिल भारतीय चिकित्सक सम्मान समारोह 1 जुलाई को स्थानीय कालिदास अकादमी उज्जैन में सम्पन्न हुआ...
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image