इंदौर की वायरोलॉजी  लैब की क्षमता 5 गुना बढ़ी, कोविड- 19 के सेंपल टेस्ट अब हो रहे इंदौर में ही

 


 


 इंदौर। कोरोना वायरस  से संक्रमण की जांच करने के लिए इंदौर के महात्मा गांधी मेडिकल कॉलेज में स्थापित वायरोलाजी लैब की क्षमता पांच गुनी तक बढ़ गई है। संभागायुक्त इंदौर आकाश त्रिपाठी ने बताया कि पहले जहां हम केवल 40 टेस्ट कर पाते थे। आज की स्थिति में 200 टेस्ट कर पा रहे हैं। यह एक अच्छी उपलब्धि है क्योंकि अब शहर में ही ज्यादा सैंपल टेस्ट किए जा सकेंगे।


संभागायुक्त श्री त्रिपाठी ने बताया है कि इस लैब के लिए DAVV सहित कुछ अन्य संस्थानों से माइक्रो बायोलॉजिस्ट की सेवाएँ ली गई है और लैब चौबीसों घंटे कार्य करेगी। 


उल्लेखनीय है कि एक टेस्ट को पूर्ण करने में लगभग 14 से 16 घंटे लगते हैं। पहले इंदौर वायरलाॅजी लैब से संपन्न टेस्ट आईसीएमआर (इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च) में पुनः परीक्षण के लिए भेजे जाते थे। अब कोई भी सैंपल बाहर नहीं भेजा जा रहा है।