जिसे मृत बताया, वह आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज में जिंदा है, वीडियो जारी कर कहा मुझे यहां से निकालो

उज्जैन ।मध्यप्रदेश शासन भले ही बड़े-बड़े दावे कर कोरोनावायरस  पीड़ित के उपचार को लेकर हर संभव सुविधाएं जुटाने की बात कर रहा हो ,लेकिन उज्जैन में स्थितियां दावे से उलट है 
 कलेक्टोरेट में कार्यरत एक बाबू की मौत और मौत के पहले बाबू द्वारा आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज से जिंदा निकालने की गुहार, सुविधाओं की पोल खोलने के लिए पर्याप्त है यह मामला सुर्खियों में आने के बाद अब एक और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है इस वीडियो में अजीज जिनवाला उम्र 36 वर्ष निवासी सैफी मोहल्ले द्वारा कहा जा रहा है कि वह अपने परिजनों के साथ माधव नगर अस्पताल में स्वयं जांच कराने पहुंचे, उसे वहां से आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया लेकिन उसके मुताबिक यहां कोई व्यवस्था नहीं है उसे कभी पॉजिटिव  मरीज के साथ तो कभी अलग रहने को कहा जाता है ,उसका उपचार भी ठीक से नहीं किया जा रहा है ,उसमें वीडियो में गुहार लगाई है कि उसे यहां से निकाला जाए ,वीडियो में खास बात यह है कि chmo के हवाले से एक दैनिक समाचार पत्र के प्रथम पृष्ठ पर अजीज की मौत होना बताई है जबकि अजीज जिंदा है और उसने वीडियो जारी कर स्वय के जिंदा रहने का प्रमाण भी दिया है।


Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
पूर्व मंत्री बोले सरकार तो कांग्रेस की ही बनेगी
Image
नवनियुक्त मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को उज्जैन तथा अन्य जिलों से आए जनप्रतिनिधियों कार्यकर्ताओं और परिचितों ने लालघाटी स्थित वीआईपी विश्रामगृह पहुंचकर बधाई और शुभकामनाएं दी
Image