लगातार जारी है सेवा जरूरत मंद की.

 आगर.    लगातार जारी है सेवा जरूरत मंद की.       ‌.         आगर समाज सेवा में हमेशा आगे रहा है वैसे भी मालवा की प्रसिद्ध कहावत.  मालव धरती गहन गंभीर.   पग पग रोटी डग डग नीर.     जग जाहिर है  बाबा बैजनाथ की इस. नगरी में कोइ भी भूखा न सोने पाये यही प्रयास  आगर वासियो का रहता है संकट की इस घड़ी में आगर के युवा बुजुर्ग सब तन मन धन से लगे हैं प्रशासन भी इस समय मानव सेवा के इस कार्य को प्राथमिकता से करने हेतु कृत संकल्प है लगभग 2000भोजन के पैकेट प्रतिदिन गरीब लोगों में बांटे जा रहे है 900पैकेट प्रशासन द्वारा 700पेकेट  लायन्स क्लब टीम द्वारा 200पेकेट स्वर्णकार समाज द्वारा. ,100पेकेट महावीर सेवा समिती द्वारा 100पेकेट विश्व हिंदु परिषद द्वारा 100पेकेट  रोहित किराना  छावनी द्वारा कुल 2100पेकेट  प्रतिदिन तीन वाहनो द्वारा शासन के निर्देश में वितरित हो रहे है                ‌