सब्जी और दूध के पैकेट सेनीटाइज करने का तरीका बताया प्रशासन ने

 


उज्जैन । दुनिया वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के दौर से गुजर रही है। कोरोना से पीड़ितों की संख्या में रोज बढ़ोतरी हो रही है। इस वायरस से अब तक एक लाख 60 हजार से ज्यादा जानें जा चुकी हैं और 23 लाख 31 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं। जबकि पांच लाख 97 हजार से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। यूरोप में अब तक मरने वालों की संख्या एक लाख से अधिक हो गई है। 
भारत में भी कोरोना वायरस का प्रभाव कम नहीं हो रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोरोना वायरस से अब तक 640 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि संक्रमित मामलों की संख्या बढ़कर 19 हजार से अधिक हो गई है। कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन किया गया है।
जिसके चलते सभी लोग घरों में सुरक्षित हैं लेकिन बाहर से आने वाली चीजों के कारण कोरोना का संक्रमण हो सकता है बाहर से आने वाली चीजों में सब्जी और दूध का पैकेट शामिल है। दुनिया भर के डॉक्टरों का कहना है कि बाहर से आने वाली चीजों से भी इस समय दूरी बनाना बेहतर है, लेकिन फिर भी यदि इन्हें घर में लाना पड़े तो बहुत ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है, जिससे कि इसके संक्रमण को रोका जा सके। इसको लेकर विशेषज्ञों द्वारा सलाह दी गई है।
फल सब्जियों को घर लेकर आएं तो उनके थैलों को फेंक दें और उन फल और सब्जियों को अच्छी तरह से धोकर साफ कर लें। यदि घर के यहां आने वाले सब्जी विक्रेता से सब्जी ले रहे हैं तो उसे सीधे एक बड़े बर्तन में रखें और फिर उसे अच्छी तरह गर्म पानी से धोने के पश्चात अपने हाथों को भी अच्छी तरह से धोएं, घर में आने वाले दूध, ब्रेड, दाल, तेल आदि प्लाटिक पैक सामान भीतर लाने से पहले एक बार बाहर से साबुन के पानी से धो लें। इस तरह संक्रमण की आशंका कम हो जाती है। दूधवाले से दूध लेते समय बर्तन उसके हाथ में ना दें बर्तन को अपने हाथ में ही रखें।