पूर्व मंत्री और विधायक को उज्जैन में इलाज पर विश्वास नहीं, आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज के नए वीडियो से हड़कंप मचा, इधर प्रशासन ने भी अपील की

उज्जैन ।आज सुबह के मेडिकल बुलेटिन ने शहर की जनता की नींद उड़ा दी है, 10 पॉजिटिव और 4 मौत के बाद आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज के विरुद्ध पूर्व मंत्री पारस जैन, विधायक मुरली मोरवालऔर सोशल मीडिया  ने मोर्चा खोल दिया है ।उज्जैन में मौत की दर सर्वाधिक होने से भी प्रशासन को कटघरे में खड़ा किया जा रहा है इधर प्रशासन बार-बार यह अपील कर रहा है कि यदि किसी को सर्दी खांसी या अन्य कोई बीमारी हो तो वह तत्काल डॉक्टर से संपर्क करें प्रशासन की यह अपील भी बेअसर साबित हो रही है, वजह साफ है कि जनता को यह डर है कि अस्पताल जाने के बाद वह जिंदा वापस आएंगे या उनकी लाश, शहर की जनता को अब न तो प्रशासन पर और ना ही आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज पर विश्वास रह गया है जनता के साथ-साथ जनप्रतिनिधियों पूर्व मंत्री तक विश्वास की स्थिति में नहीं है ,ऐसे में यह जरूरी हो गया है कि प्रदेश सरकार उज्जैन के समस्याओं को समझें। आज जो 10 लोग पॉजिटिव आए हैं उनमें बड़नगर के विधायक मुरली मोरवाल और उनके परिवार का एक सदस्य तथा आंग्रे के बाडे में रहने वाले सोनी परिवार की 4 सदस्य शामिल है, जो मौत हुई उनमें नयापुरा के विमल जैन की मौत ने सबको चौंकाया क्योंकि नयापुरा अभी तक कोरोनावायरस की चपेट में नहीं था, एक मृतक कार्तिक चौक का और एक गोंदसा दरवाजा का है। पटनी बाजार के चौधरी परिवार में से भी एक सदस्य की मौत शहर को दहला दिया है।


* पूर्व मंत्री पारस जैन तो इंदौर में सो बेड की डिमांड तक कर डाली इसके अतिरिक्त उन्होंने कुछ मांग भी की है उनकी मांग है कि  ,,,,,, इंदौर के अरबिंदों अस्पताल में 100 बेड की उपलब्धता अति आवश्यक है !


* कुछ मरीजों को पुलिस ट्रेनिंग स्कूल में शिफ्ट किया गया है परन्तु वहां आपातकाल परिस्थिति के लिए ना तो वेंटिलेटर और ना ही ओक्सीजन की कोई व्यवस्था है , ऐसी परिस्थिति में तत्काल मरीजों को शिफ्ट कर इलाज की व्यवस्था सुनिश्चित करना आवश्यक है !


* covid 19 के इलाज के लिए चिहित किये गए आर डी गार्डी अस्पताल से मरीजों की आ रही शिकायतों के मद्देनज़र वहां सतत निरिक्षण हेतु प्रशासनिक अधिकारीयों की ड्यूटी बड़ाई जाना आवश्यक है साथ ही 24 घंटे डॉक्टर्स की उपलब्धता एवं वरिष्ठ डॉक्टर्स का भी 8 - 8 घंटे का रोटेशन आवश्यक है !


* शासन द्वारा संक्रमण की गंभीरता समझते हुए टेस्टिंग लैब की अनुमति तो प्रदान कर दी गयी है परन्तु देखने में आ रहा हैं कि अभी तक जाँच सुचारू रूप से प्रारंभ नहीं हो पा रही है ! ये व्यवस्था भी जल्द से जल्द सुनिश्चित करना अतिआवश्यक है !


   इधर उज्जैन जिले की बड़नगर तहसील के कांग्रेस विधायक मुरली मोरवाल संभावित पॉजिटिव पाए गए हैं । इसका मतलब है कि उनकी रिपोर्ट डाउटफुल है लेकिन विधायक किसी प्रकार की रिस्क नहीं लेना चाहते हैं। वे इलाज के लिए इंदौर रवाना हो रहे हैं । आज सुबह जो कोरोना की रिपोर्ट आई है उसमें चार पॉजिटिव बड़नगर के हैं । इनमें से दो जो डाउटफुल पॉजिटिव है। उसमें विधायक मुरली मोरवाल और उनके परिवार के एक अन्य सदस्य भी शामिल है। विधायक मुरली मोरवाल लाक डाउन के बाद से ही लगातार सेवा कार्य में लगे हुए हैं । उन्होंने बड़नगर क्षेत्र के लोगों की सेवा में कोई कसर नहीं छोड़ी । कोरोना का खतरा होने के बावजूद एक भी दिन विधायक मुरली मोरवाल घर पर नहीं बैठे । इसी वजह से वे भी इसकी चपेट में आ गए । विधायक मुरली मोरवाल उज्जैन चर्चा से बातचीत में कहा कि वे संभावित है लेकिन किसी प्रकार का खतरा मोल नहीं लेना चाहते हैं इसलिए इलाज के लिए इंदौर जा रहे हैं । इसका सीधा मतलब है कि उज्जैन में स्वास्थ्य विभाग, आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज की व्यवस्थाओं से कांग्रेस के विधायक मुरली मोरवाल भी संतुष्ट नहीं है। अब उज्जैन जिले के लोगों को इंदौर का ही सहारा लेना पड़ रहा है । विधायक ने कहा कि 5 लोग पहले भी संभावित पॉजिटिव आए थे जिन्होंने इन बड़नगर से इंदौर पहुंचकर इलाज करवाया और ठीक हो गए।  


Rd Gardi की नई करतूत, मरीज़ों के ऊपर क्लोरीन का छिड़काव



Rd Gardi ने लोगो की जान लेने के लिए सारे तरीके अपना लिए है, आज Rd Gardi में मानवता की हद पार कर दी गई। कोरोना का इलाज करवा रहे मरीज़ों पर *क्लोरीन और फिनोल* के पानी का छिड़काव किया गया जिससे मरीज़ों की आखों से आसु ओर गले मे जलन से दम घुटा तो मरीज़ बाहर की और भागे, मरीज़ों ने तब वार्डबॉय से पूछा ये क्या किया जा रहा है तो उन्हें बताया गया के तुम लोग के पास से काफी बदबू आरही इस लिए केमिकल से तुमको नहलाया जा रहा है। इस हरकत से मरीज़ों का सारा सामान एवम बिस्तर पूरी तरह से केमिकल में खराब हो चुके है। परेशान मरीज़ों ने वीडियो बना कर अपने परिजनों को भेजा। वीडियो और ऑडियो सोशल मीडियाा पर वायरल हो रहेे हैं
: ज्ञात हो क्लोरीन ओर फिनोल का इस्तेमाल सिर्फ फर्श एवम बाथरूम को साफ करने के लिए किया जाता है , किसी जीवित प्राणी पर नही।


   जिला प्रशासन की अपील  


कलेक्टर ने डायबिटीज एवं हाइपरटेंशन के मरीजों को से आग्रह किया है कि वे कोरोनावायरस लक्षणों को  नजरअंदाज न करें एवं तुरंत कंट्रोल रूम को सूचना दें



 कलेक्टर शशांक मिश्र  ने वीडियो अपील। जारी कर उज्जैन जिले के सभी ऐसे नागरिकों से अपील की है कि जिन को पहले से ही डायबिटीज  व  हाइपरटेंशन की बीमारी है  वे  सर्दी खांसी बुखार एवं सांस लेने में तकलीफ होने के लक्षणों को नजरअंदाज ना करें तथा इसकी सूचना कंट्रोल रूम  7724896549  पर  दे  अथवा नजदीक के अस्पताल में जाकर अपना परीक्षण करवाएं। उन्होंने कहा है कि कोरोना वायरस ऐसे लोगों पर ज्यादा प्रभाव डालता है जिनको पूर्व से ही कोई बीमारी चली आ रही है। इसलिए कोरोना वायरस के लक्षणों की  अनदेखी  न की जाए अपनी जांच करवाये  और  संक्रमण से  बचे 


Popular posts
जिले में आज से ही लेफ्ट राइट के नियम का पालन करते हुए शाम 7:00 बजे तक खुली रहेगी दुकाने ,,,,, धार्मिक स्थल नहीं खुलेंगे,,,,,ब्लैक फगस के 89 मरीज हैं जिनका उपचार चल रहा है,,,,,,,कलेक्टर ने कहा कि अब आगे से कोरोना के जितने भी प्रकरण पॉजिटिव आएंगे उन सभी को होम क्वॉरेंटाइन के स्थान पर कोविड केयर सेंटर में रखा जाएगा
Image
आज 11 जून से ही संपूर्ण बाजार खुलेगा लेफ्ट राइट का नियम तत्काल प्रभाव से समाप्त
Image
आरक्षक का सनसनी खेज अश्लील वीडियो हुआ वायरल, तड़ीपार बदमाश भी है शामिल,
Image
चौबीस घंटे पर्दे के पीछे रहकर कर रही है टीम डाटा कलेक्शन का काम*
Image
पटवारियों की दुर्घटना में मौत के बाद एक्सिस बैंक ने उनके नामिनी को दिए 20 20 लाख रुपए, जिलाधीश ने सोपे चेक
Image