बेताल मार्ग पर बच्चों के कपड़े की दुकान संचालित करने वाले का पूरा परिवार चपेट में आया, पार्श्वनाथ टावर फिर सुर्खियों में,, शासकीय अधिकारी की इंदौर में मौत,,, 23 वर्षीय युवक की मौत से भी सनसनी फैली, कंटेनमेंट से मुक्त एरिया फिर कंटेनमेंट हुआ

उज्जैन। आज के हेल्थ बुलिटिन ने एक बार फिर सकते में डाल दिया है, कल सिर्फ दो पॉजिटिव केस आने के बाद लग रहा था कि शहर में कोरोना कंट्रोल में है, लेकिन आज फिर 14 पॉजिटिव आने के बाद शहर में हलचल मच गई है, बेताल मार्ग पर बच्चों के कपड़े की दुकान संचालित करने वाले गुप्ता परिवार के पांच सदस्यों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, बताया जाता है कि लॉक डाउन,, अनलॉक होने के बाद उक्त व्यापारी बच्चों के कपड़ों की दुकान को संचालित कर रहा था, व्यापारी, उसकी मां और दो बच्चे सहित कानपुर से उज्जैन आई उसकी बहन भी कोरोना से संक्रमित हो गई है, सूत्रों का कहना है कि उक्त परिवार का मुखिया पार्श्वनाथ टावर में रहने वाले कोरोना पॉजिटिव आने वाले परिवार के संपर्क में था, यह भी खबर है कि किसी शव यात्रा में शामिल होने के कारण यह परिवार संक्रमित हुआ है ,परिवार में 7 साल का एक बच्चा 13 साल की बच्ची, 43 वर्षीय पुरुष ,52 वर्षीय महिला वर्षीय महिला,65 वर्षीय महिला चपेट में आई है, बेताल मार्ग पर रहने वाले और वहीं पर दुकान संचालित करने वाले इस परिवार के 5 सदस्य की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद क्षेत्र के व्यापारियों में भी हड़कंप मच गया है, वहीं इस दुकान से कपड़े खरीदने वालों में भी दहशत है। इसके अलावा महाकाल वाणिज्य केंद्र में जैन परिवार का एक 95 वर्षीय सदस्य भी चपेट में आ गया है। मधुबन कॉलोनी से 30 वर्षीय महिला ,मालीपुरा की 55 वर्षीय महिला, राजेंद्र नगर में 15 वर्षीय बालक और 39 वर्षीय पुरुष, वजीर पार्क में 70 वर्षीय पुरुष ,लक्ष्मीबाई मार्ग में रहने वाला 66 वर्षीय पुरुष और नागझिरी में रहने वाल75 वर्षीय महिला भी चपेट में आ गई है। सूत्रों के मुताबिक अलकनंदा में रहने वाले 58 वर्षीय अग्रवाल परिवार के एक सदस्य जो कि नापतोल विभाग में पदस्थ थे उनकी भी इलाज के चलते इंदौर के चोइथराम अस्पताल में मौत हो गई है, परिवार सूत्रों के अनुसार इस अधिकारी को कोरोना पॉजिटिव था ,फ्रीगंज के एस एस गुप्ता अस्पताल के पास क्लीनिक चलाने वाले एक डॉक्टर परिवार के 23 वर्षीय युवक की भी सांस लेने में तकलीफ के चलते हैं मौत हो गई है युवक अपने दादा-दादी के पास रंगबाड़ी में रहता था, इस युवक की मौत भी आज चर्चा के केंद्र में रही, उज्जैन के एक दैनिक समाचार पत्र में काम करने वाली महिला के परिवार में भी कोरोना पॉजिटिव आने से अखबार के प्रकाशन को फिलहाल कुछ दिनों के लिए बंद करने की सूचना है। अनलॉक में निडर होकर सावधानियां नहीं रखने वालों के लिए लक्ष्मीबाई मार्ग पर 66 वर्ष के पुरुष को को रोना की पुष्टि एक सबक है क्योंकि यह पुरुष जहां रहता है दो दिन पहले ही लगभग 50 दिन के कंटेनमेंट के बाद एरिया खोला गया था जिसे आज फिर कंटेनमेंट कर दिया गया है।


Popular posts
फेसबुक गैंग के गुंडे दुर्लभ कश्यप की हत्या
Image
तेजरफ्तार बस हुई दुर्घटनाग्रस्त, 3 की मौत, करीब 10 से 12 घायल
Image
महापौर मधुकर वर्मा के कांग्रेस की परिषद थी, महापौर थे मधुकर वर्मा तब भी चलता था लेनदेन का खेल ,,, निगम के इंजीनियरों ने रिश्वत की राशि के लिए बना रखा था गंगाजलि फंड
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
गोवर्धन सागर को अतिक्रमण से मुक्त कराने की कार्रवाई प्रारंभ हुई, 35अतिक्रमण हटाए गए, 28 दुकाने और 7 मकान तोड़े गये
Image